लोहरदगा l एमजी रोड स्तिथ झखरा कुम्बा में जिला राजी पड़हा का पुर्नगठन किया गया। इससे पूर्व पड़हा बेल सुखदेव उरांव की अध्यक्षता में बैठक करते हुए समिति का पूर्ण गठन किया गया। बताते चले कि जिला राजी पड़हा का कार्यकाल तीन वर्ष का था परंतु कोविड 19 को देखते हुए पांचवे वर्ष में 10 अक्टूबर को 23 पड़हा बेल के प्रतिनिधियों के बीच विचार विमर्श के पश्चात जिला राजी पड़हा को भंग कर पुनगठन की तिथि तय की गई थी। वहीं शुक्रवार को समिति का पुर्नगठन किया गया, जिसमे 27 पड़हा बेल प्रतिनिधियों की उपस्थिति में चुनाव सम्पन्न कराया गया। जिसमे राजी पड़हा, बेल विजय उरांव, उपबेल शिवशंकर टाना भगत, देवान संजीव भगत उपदीवान , – जतरू उरांव, कोटवार – रामकिशुन उरांव, खड्डी उरांव व सहावीर उरांव, प्रवक्ता रुपनरायण उरांव,, महेश्वर उरांव, रामावतार भगत एवं राजेश भगत। संयोजक माडली- बुधमान भगत, रामचन्द्र भगत, चैतू मुंडा, कामेश्वर भगत, गोवर्धन उरांव, देवनूस उरांव एवं रामनाथ उरांव, लेखन प्रभारी- कार्तिक उरांव, अनील उरांव,सलाहकार समिति- बिरसा उरांव, बिनोद भगत, सोमे उरांव, सुदू उरांव, सोमदेव उरांव , ड्राफटिंग कमिटी- जलेस्वर उरांव व विनोद भगत, विरसा उरांव, सोमे उरांव, जिला राजी पड़ाहा में चर्चा के दौरान आदिवासी स्मिता एवं अधिकार पर चर्चा करते हुए विनोद भगत एवं जलेश्वर उरांव ने विस्तार पूर्वक कहा कि प्रत्येक राजस्व ग्राम में ग्राम सभा का गठन, सीएनटी एक्ट का प्रशिक्षण, समाजिक एवं धार्मिक जमीन सुरक्षा हेतु ठोस कदम उठाएगी। इस पर सैकड़ो लोगों ने सबसमति से इसका स्वागत किया। बैठक में कहा गया कि सभी पड़हा पदाधिकारियों को 31 अक्टूबर रविवार को शपथ दिलाते हुए पगड़ी पोशी की जाएगी। इसकी जनकारी जिला राजी पड़हा के संयोजक विनोद भगत ने दी