हजारीबाग। डीएवी पब्लिक स्कूल में विद्यार्थी विज्ञान मंथन के महत्व पर चर्चा के लिए एक ऑफलाइन कार्यशाला का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम में विद्यार्थी विज्ञान मंथन झारखंड के स्टेट कोऑर्डिनेटर डॉ जे.के. पांडे और विज्ञान भारती झारखंड के सचिव डॉ टी.वी. सिंह उपस्थित थे। उन्होंने शिक्षकों को आहूत करते हुए कहा कि आप अधिक से अधिक छात्रों में वैज्ञानिक अभिरुचि विकसित करें ताकि भविष्य में भारत को विज्ञान के क्षेत्र में नई नई प्रतिभाएं मिल सके। इस अवसर पर विद्यालय के प्राचार्य अशोक कुमार ने पुष्पगुच्छ देकर दोनों अतिथियों का स्वागत किया और कहा कि जिले के सभी विद्यालयों के प्राचार्य अधिक से अधिक संख्या में छात्रों को विद्यार्थी विज्ञान मंथन प्रतियोगिता में भाग लेने के लिए प्रेरित करें। ज्ञात हो कि विद्यार्थी विज्ञान मंथन में छात्रों को रजिस्टर्ड करने के लिए अंतिम तिथि 31 अक्तूबर तक है। भारत सरकार के प्रौद्योगिकी विभाग, एन सी इ आर टी के तत्वावधान में विद्यार्थी विज्ञान मंथन द्वारा कक्षा 6 से 11 के स्कूली छात्रों के बीच आयोजित किए जाने वाले इस कार्यक्रम का उद्देश्य बच्चों में विज्ञान को लोकप्रिय बनाना है।‌इस अवसर पर विद्यालय के सभी विज्ञान शिक्षक कार्यक्रम में उपस्थित थे।