चाईबासा। जिला समाहरणालय स्थित सभाकक्ष में उपायुक्त अनन्य मित्तल के अध्यक्षता में केसीसी, कृषि ऋण माफी, ड्रिप इरिगेशन एवं ग्रामीण क्षेत्रों में हड़िया बाजारीकरण को रोकने तथा महिलाओं के बेहतर जीवन यापन उद्देश्यार्थ संचालित फुलो-झानो योजना आधारित समीक्षात्मक बैठक का आयोजन किया गया। बैठक में जिला उपायुक्त के द्वारा प्रखंड स्तर पर संचालित उत्कृष्ट कार्यों जिसमें मनोहरपुर में लेमन ग्रास, बंदगांव में केला की खेती, टोंटो में शरीफा की खेती, तांतनगर में स्ट्रोबेरी एवं आत्मा-पश्चिमी सिंहभूम द्वारा ड्रैगन फ्रूट प्रत्यक्षण की जानकारी से अवगत होने के उपरांत वन ब्लॉक वन प्रोडक्ट कांसेप्ट के आधार पर प्रखंड वार फसल को चिन्हित करते हुए प्रस्ताव उपलब्ध कराने हेतु निर्देशित किया गया।बैठक उपरांत उपायुक्त के द्वारा बताया गया कि जिला अंतर्गत कृषि ऋण माफी योजना के तहत कुल 33,432 लक्ष्य के विरुद्ध 21,212 लाभुकों का ईकेवाईसी पूर्ण हो चुका है तथा शेष बचे किसान में से लगभग 3,500 किसानों का ईकेवाईसी मृत/पलायन एवं अन्य कारणों से संभव नहीं है। उन्होंने बताया कि किसान क्रेडिट कार्ड के तहत निर्धारित 1,03,070 के विरुद्ध 68,002 किसानों को केसीसी से अच्छादित किया जा चुका है। इस संदर्भ में निर्देशित किया गया कि क्षेत्र में संपर्क स्थापित करते हुए केसीसी आवेदन सृजित कराना भी सुनिश्चित किया जाए।उपायुक्त के द्वारा बताया गया है कि प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना के तहत कुल 831 किसानों का आवेदन प्रखंड स्तर से कृषि कार्यालय को प्राप्त है, जिसे कार्यकारिणी एजेंसी को उपलब्ध करा दी गई है तथा एजेंसी के द्वारा स्थल का निरीक्षण किया जा रहा है। इसके अलावा बैठक में उपायुक्त के द्वारा विगत वर्षों में स्थापित टपक सिंचाई की अद्यतन स्थिति से संबंधित प्रतिवेदन का भी जायजा लिया गया। उपायुक्त के द्वारा फुलो-झानो योजना के संदर्भ में बताया गया कि जिला अंतर्गत सड़क किनारे हड़िया बेचकर जीवन यापन करने वाली कुल 532 गरीब महिलाओं का सर्वे के दौरान चयन किया गया था जिसमें 403 लाभुकों को योजनानुकूल 10,000 से 20,000 राशि का ऋण मुहैया कराया गया है ताकि उनके द्वारा जीविकोपार्जन के अन्य साधनों को व्यवस्थित किया जा सके। बैठक में उपायुक्त के द्वारा जेएसएलपीएस के जिला कार्यक्रम प्रबंधक को योजना अंतर्गत प्रत्येक प्रखंड में 1-1 चिन्हित लाभुकों को ई-रिक्शा उपलब्ध करवाने हेतु विशेष तौर पर निर्देशित किया गया।