लोहरदगा l भंडरा प्रखंड के ग्राम धोबाली में आयोजित ऐतिहासिक जतरा आज हर्षोउल्लास के साथ संपन्न हुआ। इस जतरा कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रुप में झारखंड प्रदेश कांग्रेस कमेटी के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष, पूर्व विधायक सुखदेव भगत उपस्थित थे। विशिष्ट अतिथि के रूप में आलोक कुमार साहू, बिंदेश्वर उरांव, रंजीत लकड़ा अतिथि के रूप में बबलू उरांव, सत्यजीत सिंह, फुल देव उरांव सहित अनेक लोग उपस्थित थे। जतरा में नागपुरी सांस्कृतिक कार्यक्रम का भी आयोजन किया गया था जिसे मुख्य अतिथि सुखदेव भगत, विशिष्ट अतिथियों ने संयुक्त रूप से फीता काटकर किया। मौके पर सुखदेव भगत ने कहा कि जतरा, अखड़ा, नगड़ा आदिवासियों की पहचान है। जतरा सामुदायिक का प्रतीक है क्योंकि इसमें सभी वर्गों का भागीदारी होता है। जतरा आदिवासियों के रीति रिवाज परंपरा से जुड़ा हुआ है। श्री भगत ने कहा कि जहां जतरा होता है उस गांव में अतिथियों का भी आगमन होता है जिससे हमारे रिश्ते और प्रगाढ़ होते हैं । हमें अपनी रीति रिवाज परंपरा को और मजबूत करने की आवश्यकता है। इस जतरा में धोबाली , मकुंदा ,नगड़ी ,तेतरपोका, पझरी,कचमची सहित अनेक गांवों के खोड़हा ने भाग लिया जिसे आयोजन समिति के द्वारा सम्मानित किया गया। इस कार्यक्रम में पाहन सुरेंद्र उरांव, गुलशन उरांव, प्रदीप उरांव, मोहन उरांव ,करमा उरांव, शाहिद अहमद बेलू सहित अनेक लोग उपस्थित थे। मौके पर मुख्य अतिथि, विशिष्ट अतिथि ने आदिवासी नृत्य में अपनी सहभागिता निभाएं।