बरहरवा/साहिबगंज।कालाजार नियंत्रण कार्यक्रम के तहत बरहारवा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र परिसर में सोमवार को प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉक्टर सरिता टुडू के नेतृत्व में जेएसएलपीएस दीदियों को कलाजार सर्वे का प्रशिक्षण दिया गया। चिकित्सा पदाधिकारी डॉ सरिता टूडू ने प्रशिक्षण के दौरान दीदीओं को बताया कि कालाजार बालू मक्खी के काटने से होता है। इस बीमारी के सामान्य लक्षण दो सप्ताह या अधिक समय से बुखार लगना जो सामान्य उपचार से ठीक न हो,भूख की कमी,खून की कमी,चमड़े का रंग काला पड़ना आदि है। इस बीमारी की जांच सभी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों में उपलब्ध है।इस रोग से बचाव के लिये दवा का छिड़काव चुने गांव में किया जाना है। बताया कि यह प्रशिक्षण आइआरएस चक्र के बाबत दिया जा रहा है। आम आदमी छह फीट की उंचाई तक सभी कमरे,रसोई घर, गौशाला, गोदाम में छिड़काव अवश्य की जानी चाहिये है। मौके पर बीपीएम दिनेश कुमार,केबीएस दीपक कुमार,एमटीएस अजय कुमार,एसआई रितेश कुमार व जेएसएलपीएस दीदीयां सहित अन्य उपस्थित थे।