उधवा/साहिबगंज। उधवा प्रखंड सभागार में सोमवार को कालाजार से बचाव के लिए जन जागरूकता हेतु एक दिवसीय प्रशिक्षण का आयोजन किया गया।जिसकी अध्यक्षता उधवा बीडीओ राहुल देव ने किया। बैठक के दौरान प्रशिक्षण में जेएसएलपीएस से जुड़ी दीदियों ने भाग लिया। इस कार्यक्रम में खालिद अंसारी उपस्थित हुए। इस दौरान कार्यक्रम को संबोधित करते हुए प्रभारी डॉ खालिक अंसारी ने बताया कि कालाजार एक बीमारी है इसे सामान्य ना ले। बिमारी के लक्षण संबंधित जेएसएलपीएस की दीदियों को विस्तार पूर्वक बताया गया। साथ ही उन्होंने बताया कि कालाजार मादा बालू मक्खी के काटने से फैलने वाली बीमारी है।कालाजार सामान्यता गंदे एवं नमी वाले इलाकों तथा कच्चे घरों में रहने वाले लोगों में अधिक पाया जाता है।इस रोग के कारण बुखार के साथ-साथ रोगी के हाथ पैर पेट एवं चेहरे का रंग भूरा, काला हो जाने के कारण ही इसे कालाजार कहा जाता है,जिसका अर्थ काला बुखार भी होता है।बीडीओ राहुल देव ने कालाजार की रोकथाम तथा प्रचार प्रसार करने के लिए जेएसएलपीएस से प्रत्येक पंचायत में दो सक्रिय महिलाओं को चयनित किया गया है।चयनित महिलाएं अपने-अपने पंचायत भ्रमण कर कालाजार से संबंधित रोगियों की पहचान करेंगे तथा कालाजार से बचने से संबंधित लोगों को जानकारी देने का काम करेगी।मौके पर एमटीएस अनील पाल,अतुल कुमार,बीपीएम राहुल वर्मा,रमेश हेंब्रम, सुनीता मुर्मू,पृथ्वीराज,हुमायूं मियां, अनंत कुनाई,तरेषा मुर्मू,पोपी देवी,रिता देवी, सबनम मुस्तरी,आयशा परवीन,सीमा खातून,सुशीला महोली सहित अन्य लोग मौजूद थे