साहिबगंज।सोमवार को साहिबगंज महाविद्यालय में झारखंड के पुलिस महानिदेशक नीरज सिन्हा का आगमन हुआ। महाविद्यालय के पूर्व प्राचार्य प्रो.शिव शंकर वर्मा के पायलट पुत्र शील प्रिय वर्मा महाविद्यालय के पूर्व प्राचार्य प्रो.शिव शंकर वर्मा के स्मारक पहुंचकर पुष्पांजलि अर्पित की, साथ ही अपने गुज़रे ज़माने के पुरानी यादों को भी ताजा किया। इसके साथ ही वे साहिबगंज महाविद्यालय का निरक्षण व भू- विज्ञान विभाग का अवलोकन भी किया, साथ ही साहिबगंज जिले में मिलने वाले फॉसिल्स व ऐतिहासिक महत्व के खुदाई में मिले मूर्तियों को भी देखा।
भ्रमण के क्रम में डीजीपी नीरज सिन्हा ने भू -विज्ञान विभाग के विषय के बारे में जानकारी प्राप्त की, साथ ही नंदन भवन, विज्ञान भवन एवं कला भवन के बारे में डॉ. रणजीत कुमार सिंह से जानकारी ली। उन्होंने जिले में मिले फॉसिल्स की बड़ाई करते हुए कहा कि इन फॉसिल्स से साहिबगंज जिले की पहचान राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय स्तर पर है। महाविद्यालय भ्रमण के क्रम में डॉ. रणजीत कुमार सिंह उनके साथ रहे व उनको महाविद्यालय की सारी जानकारियों एवं गतिविधियों के बारे में अवगत कराया। नीरज सिन्हा ने महाविद्यालय में बने मानस मंच को याद करते हुए पूर्व में यहां होने वाले गतिविधियों पर भी खुलकर चर्चा की, यहां के खेलकूद व अन्य प्रतियोगिता के बारे में भी उन्होंने अपनी यादों को ताजा किया।
बता दें कि पूर्व प्राचार्य प्रो. शिव शंकर वर्मा
महाविद्यालय के स्थापना काल के दूसरे प्राचार्य थे और वे अनुशासन व अपनी कर्व्यनिष्ठता के लिए जाने जाते थे। प्रो.शिव शंकर वर्मा व प्रो.पदमा नंद सिंह साहिबगंज महाविद्यालय में शैक्षणिक,अनुशासन व खेलकूद आदि के लिए एक आदर्श स्थापित किया था।
ज्ञात रहे कि नीरज सिन्हा डीजीपी बनने बाद पहली बार साहिबगंज जिला पधारे व साहिबगंज महाविद्यालय में उनका आगमन भी प्रथम बार हुआ।