चतरा ( इटखोरी ) । हेमंत सोरेन की सरकार झारखंड वासियों के साथ वादाखिलाफी करने के साथ हर मोर्चे पर विफल रही है। चुनाव के वक्त जितने भी वादे जेएएमएम व गठबंधन ने किए थे, उसमें से एक भी पूरे नहीं हुए हैं अबतक। उक्त बातें दो दिवसीय प्रवास पर चतरा पहुंचे राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री सह भाजपा नेता बाबूलाल मरांडी ने कार्यकर्ता समम्मेलन में कही। उन्होंने आगे कहा कि दो वर्ष के शासन काल में हेमंत सरकार के पास उपलब्धियां गिनाने के लिए कुछ भी नहीं है। हेमंत सरकार ने रोजगार, विकास आदि के मुद्दे पर झारखंडवासियों को सिर्फ धोखा दिया है। राज्य का विकास भी अवरुद्ध हो गया है और प्रदेश में बेरोजगारी लगातार बढ़ रही है। वहीं प्रतिपक्ष के नेता पद के सवाल पर श्री मरांडी ने कहा कि सोरेन परिवार सब कुछ अपने पास रखना चाहता है। ऐसे में कायदे-कानून से इस परिवार को कोई मतलब नहीं है। जबकी केंद्र सरकार के संबंध में कहा कि कोरोना रोकथाम के लिए एक सौ करोड़ लोगों का वैक्सीनेशन मोदी सरकार के दृढ़ इच्छाशक्ति को दर्शाती है। पेट्रोल व डीजल के बढ़ती कीमतों के सवाल पर सरकार का बचाव करते हुए कहा कि अंतरराष्ट्रीय बाजार में पेट्रोल व डीजल की कीमतें अनियंत्रित होने की वजह से जनता को महंगे दाम पर पेट्रोल व डीजल खरीदना पड़ रहा है। मोदी सरकार वाहनों के संचालन के लिए वैकल्पिक साधन उपलब्ध कराने के प्रयास में लगी है, आने वाले दिनों में जनता को ईंधन के वैकल्पिक साधन का लाभ मिलने लगेगा। वही कानून व्यवस्थ पर कहा की सरकार की पहल प्राथमिकता राज्य की कानून व्यवस्था को दुरुस्त करने की होती है, लेकिन हेमंत सरकार में यह भी भगवान भरोसे है। श्री मरांडी कार्यकर्ता सम्मेलन के उपरांत रात्रि विश्राम चतरा में करने के उपरांत, मंगलवार को लातेहार के लिए रवाना होंगे।