2 साल से खराब पड़ी है पानी टंकी, झेल रहे नदिया के ग्रामीण

लोहरदग l गर्मी प्रारंभ होते ही जिले में पेयजल की किल्लत सामने आने लगी है. जैसे जैसे गर्मी तेज हो रही है पानी समस्या गहराते जा रही है. जिससे लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. इस क्रम में हरमू पंचायत के नदिया गांव में पानी की समस्या सामने आई. वैसे तो नदिया में पानी टंकी का निर्माण कराया गया है. कुछ सालों तक लोगों को पानी भी मिला. जिसके बाद पिछले लगभग 2 साल से यह भारी-भरकम पानी टंकी सफेदहाथी साबित हो रहा है. जबकि हर साल गर्मी के दिनों में ग्रामीणों को पेयजल के लिए मशक्कत करना पड़ता है. इसके बाद भी जिम्मेदार ध्यान नहीं दे रहे हैं. मुखिया, जलसहिया की लापरवाही व सरकारी तंत्र को ताक पर रखने वाली अधिकारियों की कार्यशैली ने ग्रामीणों को परेशान कर रखा है. दूषित जल पीने से लोगों में कई तरह की बीमारियों का खतरा मंडराने लगा है. इस कारण ग्रामीणों में आक्रोश व्याप्त है. ग्रामीणों का कहना है कि कई बार मुखिया तथा जलसहिया से शिकायत की गई. लेकिन किसी ने संज्ञान लेना भी मुनासिब नहीं समझा. ग्रामीण सरिता देवी का कहना है कि घर-घर पानी पहुंचने के लिए पानी टंकी निर्माण व पाइप लाइन बिछाया गया. योजना के तहत भारी-भरकम पानी टंकी का निर्माण भी कराया गया है, लेकिन इसका लाभ हम ग्रामीणों को नहीं मिल पा रहा है. इसके चलते हमलोगों को पेयजल के लिए इधर उधर भटकना पड़ता है. अब गर्मी के दिनों हमलोग अपनी प्यास बुझाने के लिए सोलर जलमीनार पर ही निर्भर है. ग्रामीण मानती देवी का कहना है कि सालभर से पानी टंकी शो-पीस बना हुआ है. जबकि हर साल गर्मी के दिनों में हम लोगों को पेयजल के लिए मशक्कत करना पड़ता है. तापमान बढ़ते ही इन दिनों जलस्त्रोत सूखने लगे है. गर्मी बढऩे के साथ ही भू-जल स्तर गिरने से कुएं व हैण्डपंप सूखने लगे हैं. इसके चलते गांवों में पानी की कमी की समस्या ज्यादा बनी है. ऐसे में हम लोगों को पानी के लिए परेशानी हो रही है. ग्रामीण मीना देवी का कहना है कि होली पर्व के बाद तापमान में लगातार बढ़ोत्तरी होने लगी है. इसके साथ ही गर्मी होने लगी है. आने वाले दिनों में तापमान और बढ़ेगा. गर्मी अधिक पडने के कारण हैण्डपंपों के हलक सूख जाते हैं. ऐसे में पीने की पानी की समस्या का सामना करना पड़ता है. जिससे हमलोग परेशान है. ग्रामीण देवठान महली का कहना है कि गांव में बनी पानी टंकी इन दिनों खराब होने के कारण एक पीली इमारत के अलावा कुछ नहीं है. हर घर को शुद्ध जल देने को लेकर पानी टंकी का निर्माण कराया गया था. पर आज हम लोग पानी के लिए भटक रहे हैं. उन्होंने कहां की पूर्व विधायक कमल किशोर भगत के द्वारा सोलर जलमीनार लगवाया गया. जिससे पीने भर की पानी हम लोगों को मिल रही है. परंतु यह सोलर जलमीनार भी कभी कभी खराब हो जाती है. जिससे परेशानी बढ़ जाती है. मुखिया का बाइ इस मामले पर हरमू पंचायत की मुखिया मीणा उरांव का कहना है कि जलसहिया चांदमुनी और पुष्पा को इसकी देखरेख की जिम्मेदरी दी गई है. कनेक्शन के विरुद्ध लिए जाने वाली राशि भी समय पर जमा नहीं हो रही है. जिसके कारण खराब टंकी को ठीक कराने में परेशानी हो रही है l

Share this...
Share on Facebook
Facebook
Tweet about this on Twitter
Twitter

Leave a Comment

Your email address will not be published.