बरही। झारखंड स्टेट शूटिंग बॉल एसोसिएशन द्वारा बोकारो में आयोजित चैंपियनशिप में बरही से हज़ारीबाग की 24 सदस्यीय खिलाड़ियों की टीम रवाना हुई थी। जिसके बाद शुक्रवार की देर शाम को दोनों टीम बरही पहुंच गयी। लड़कियों की टीम फाइनल में अपनी जगह बनाकर बोकारो से हारकर रनर टीम बनी। वहीं लड़को की टीम सेमीफाइनल में धनबाद की टीम से हार गयी। बतौर कोच रामसागर यादव उर्फ राहुल एवं मैनेजर संतोष कुमार शर्मा दोनों टीम के साथ गए थे। दोनों टीम के लौटने के बाद प्रखण्ड मैदान में उनके सम्मान में सम्मान समारोह आयोजित कर खिलाड़ियों को प्रोत्साहित किया गया।कार्यक्रम की अध्यक्षता बीएसए अध्यक्ष नौशाद अहमद व संचालन सचिव बलराम केशऱी ने किया। बतौर मुख्य अतिथि सीओ अरविंद देबाशीष टोप्पो, अस्पताल के नोडल पदाधिकारी डॉ प्रकाश ज्ञानी व बीएसए संरक्षक अब्दुल मनान वारसी शामिल हुए। उन्होंने सभी खिलाड़ियों को झारखण्ड शूटिंग बॉल एसोसिएशन द्वारा उपलब्ध कराये गए सर्टिफिकेट का वितरण किया। इस अवसर पर सीओ अरविंद देवाशीष टोप्पो ने प्रमाण पत्र देने के पश्चात उपस्थित खिलाड़ियों को संबोधित करते हुए कहा कि कठिन परिश्रम व अनुशासन से खिलाड़ी अपने लक्ष्य को हासिल कर सकते है। खेल में जीत हार होता रहता है। कहा कि जीवन के हर क्षेत्र में इंसान के साथ तमाम कोशिशों के बाद भी हार जीत लगी रहती है। खेल को हमेशा खेल भावना से ही खेलना चाहिए। इससे किसी और की जीत होने पर मन में बुरे भाव पैदा नहीं होते। वहीं डॉ प्रकाश ज्ञानी ने खिलाड़ियों से कहा कि वे मैदान पर दूसरे खिलाड़ी को अपना दोस्त समझें, खेल के दौरान प्रतिस्पर्धा की भावना केवल मैदान पर ही होना चाहिए। उन्होंने कहा कि खिलाड़ी को कभी भी हार से घबराना नहीं चाहिए बल्कि खेल के बाद हार के कारण का मंथन कर गलती से सीख लेनी चाहिए। लड़को की टीम में अनिल कुमार रजक, अभिषेक कुमार शर्मा, विकास कुमार सिंह, अजित कुमार यादव, सादाब अख्तर, लड़कियों की टीम में सिमरन कुमारी, अर्चना कुमारी, मनीषा कुमारी, अंजलि कुमारी, पूजा कुमारी, अनामिका कुमारी, इत्यादि शामिल है।