लोहरदगा। अनुमण्डल पदाधिकारी अरविंद कुमार लाल की अध्यक्षता में आज दिनांक 01.11.2021 को वैश्विक महामारी कोरोना वायरस कोविड-19 के मद्देनजर सरकार के दिशा-निर्देश के आलोक में छठ पूजा त्योहार मनाने हेतु कोविड-19 से बचाव एवं रोकथाम एवं विधि व्यवस्था संधारण हेतु विचार विमर्श के लिए विभिन्न छठ पूजा समिति के सदस्यों के स्वागत के साथ बैठक अनुमंडल कार्यालय में आयोजित की गयी।

बैठक में बताया गया कि छठ पूजा-2021 को लेकर सरकार द्वारा गाईडलाईन जारी कर दिया गया है जो विभिन्न सामाचार पत्रों में भी प्रकाशित करा दिया गया है। उक्त गाईडलाईन के आलोक में आप सभी से अपील की जाती है कि कोरोना अभी समाप्त नहीं हुआ है, सावधानी बरतने की आवश्यकता है तथा ज्यादा साज-सज्जा, तोरन द्वार आदि का निर्माण नहीं किया जाना है। यह भी विशेष रूप से अपील की जाती है कि छठ पूजा हेतु छठ घाट में वही लोग जाए जो कोरोना का टीका ले चुके है।

छठ पूजा हेतु छठ घाट जाने के दौरान रास्ते में पर्याप्त रोशनी की व्यवस्था सुरक्षा की दृष्टिकोण से की जा सकती है परन्तु छठ घाट में किसी प्रकार का मेला या सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन नहीं किया जाना है।

हरमू छठ घाट के सदस्यों एवं सेरेगहातु छठ घाट के सदस्यों द्वारा बताया गया कि सांध्य समय कुछ असामाजिक तत्वों के द्वारा रोड किनारे लगाये गये लाईट को छतिग्रस्त कर दिया जाता है, इस हेतु सुरक्षा व्यवस्था के लिए आग्रह किया गया। उक्त के आलोक में संबंधित थाना प्रभारी को निर्देशित किया गया है कि छठ घाट आने-जाने वाले रास्ता में विशेष गश्ती की व्यवस्था की जाय तथा उपद्रवी तत्वों पर विशेष निगरानी रखी जाय।

सेरेंगहातु छद्र घाट के सदस्यों द्वारा बताया गया कि कोयल नदी में कुछ स्थानों पर पानी अधिक है। संबंधित अंचल अधिकारी एवं थाना प्रभारी को निर्देशित किया गया है कि पानी का आकलन कर लाल फीता से घेरने आदि की व्यवस्था सुनिश्चित करेंगे। छठ घाट के उपस्थित सदस्यों से भी आग्रह किया गया के वे स्वयं तथा वॉलेन्टीयर्स को भी इस बिन्दु पर विशेष निगरानी रखेंगे।
शंख नदी छठ पूजा समिति द्वारा छठ घाट के कर्मियों के बारे में बताया गया। इस संबंध में नगर पर्षद कार्ययपालक पदाधिकारी को शंख नदी छठ घाट के कमियों को निराकरण करने का निदेश दिया गया।