लोहरदगा l उपायुक्त दिलीप कुमार टोप्पो ने जिले में चल रहे तीन दिवसीय कोविड टीकाकरण अभियान का निरीक्षण किया। आज इस अभियान का अंतिम दिन रहा। उपायुक्त ने इस दौरान मुंदो के ग्राम भउवा टोली एवं आंगनबाड़ी केंद्र मुंदो एवं ईरगांव स्थित प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र का भ्रमण किया।
उपायुक्त ने तीनों केंद्रों में भ्रमण के दौरान आम लोगों से कोविड का दोनों डोज प्राप्त करने की अपील की। उपायुक्त ने कहा कि कोविड का टीकाकरण सरकार निःशुल्क करा रही है। यह हमें कोरोना वायरस से बचाने के लिए दी जा रही है। 18 वर्ष या इससे अधिक की उम्र के कोई भी व्यक्ति निर्भीक होकर यह टीका ले सकते हैं।

दोनों डोज अहम

उपायुक्त ने कहा कि जिले में पहला डोज और दूसरा डोज लेने वालों की संख्या में काफी अंतर है। इसका अर्थ है कि कई लोग अपना दूसरा डोज प्राप्त नहीं किये हैं। टीकाकरण का क्रम दो डोज में पूरा किया जा रहा है। जो व्यक्ति सिर्फ एक ही डोज लेंगे उन्हें इस टीका का पूरा फायदा नहीं मिलेगा। कोरोना वायरस से बचाव के लिए दोनों डोज बेहद अहम हैं। जो व्यक्ति वैक्सीन का पहला डोज ले लिये हैं वे दूसरा डोज के लिए मैसेज का इंतजार ना करें। को-वैक्सीन में 28 दिनों और कोविशील्ड में 84 दिनों का अंतर पहले व दूसरे डोज में है। जिनकी यह अवधि पूरी हो चुकी है वे जल्द से जल्द नजदीकी टीकाकरण केंद्र पहुंचें और अपना दूसरा डोज लें। आंगनवाड़ी केंद्र मुन्दो में मुन्दो के टीकाकरण से छूटे लोगों की सूची बनाकर मुखिया से सहयोग प्राप्त करने का भी निर्देश सेविका को दिया।

सैकड़ों लोगों ने गंवायी अपनी जान

उपायुक्त ने कहा कि कोविड महामारी के दौरान दूसरी लहर में सैकड़ों लोगों ने अपनी जान गंवायीं। अगर लोग समय से अपना डोज ले लेते तो नुकसान कम होता। लेकिन वहीं जिन लोगों ने अपना पहला डोज भी ले लिया था वे सुरक्षित इस लहर से बाहर आ गये। ये वैक्सीन पूरी तरह सुरक्षित है। टीकाकरण से हानि की खबरें पूरी तरह भ्रामक व झूठी हैं। कोविड का टीका पूरी तरह सुरक्षित है।

ज्ञातव्य है कि दिनांक 01.11.2021 को जिले में कोविड टीकाकरण का अभियान 64 विभिन्न केंद्रों पर चलाया गया। इसमें 3692 लोगों ने कोविड का टीका लिया। वहीं दिनांक 02.11.2021 को जिले के 66 केंद्रों में टीकाकरण अभियान चलाया गया जिसमें 2968 लोगों ने कोविड का टीका प्राप्त किया। आज के लिए जिले में 72 टीकाकरण केंद्र निर्धारित हैं।

उपायुक्त के निरीक्षण के क्रम में सदर अस्पताल उपाधीक्षक डाॅ शंभूनाथ चौधरी, जिला जनसम्पर्क पदाधिकारी पलटू महतो ,स्टेनो लाल बालकिशोर नाथ शाहदेव समेत अन्य शामिल थे।