लोहरदगा l दीपावली पर हुई आतिशबाजी से पूरा वातावरण गूंज रहा था। दीपावली की रात छोटे-छोटे बच्चों के साथ युवाओं ने जमकर आतिशबाजी की। लक्ष्मी-गणेश की वंदना के बाद आतिशबाजी का दौर शुरू हुआ, जो रात 10 बजे के बाद तक पटाखों की गूंज से वातावरण को गुंजायमान कर दिया। सरकार के आदेश के बावजूद रात 10 बजे के बाद भी शहर से लेकर ग्रामीण क्षेत्रों में पटाखों की आवाज सुनाई दी। आतिशबाजी से वातावरण में बारूद का धुआं और हवा का प्रदूषण भी काफी बढ़ गया था। हालांकि शहर से लेकर ग्रामीण क्षेत्र में हर ओर दीपावली की खुशियां छाई हु l