लोहरदगा l लोहरदगा जिले में शनिवार को शहर से लेकर गांव तक भाई और बहन के पवित्र प्रेम का त्योहार भैया दूज मनाया गया। भैया दूज और गोधन के मौके पर बहनों ने पूजा-अनुष्ठान करते हुए भाई की लंबी आयु और जीवन में प्रगति को लेकर प्रार्थना की। वही भाइयों ने बहनों की आजीवन रक्षा और जीवन में जब भी आवश्यकता हो साथ खड़े होने का संकल्प लिया। भैया दूज के मौके पर बहनों ने व्रत रखकर पूजा-अनुष्ठान करते हुए भाई और बहन के पवित्र प्रेम का त्योहार मनाया। इसके लिए सबसे पहले पूजा-अनुष्ठान की तैयारी की गई थी। पारंपरिक रूप से गोधन कूटने की तैयारी की गई थी। बहनों ने सामूहिक रूप से पूजा-अनुष्ठान किया। इसके उपरांत भाई को प्रसाद खिलाते हुए उसका तिलक लगाया। साथ ही भाई के लंबी आयु और जीवन में प्रगति को लेकर प्रार्थना की। भाइयों ने बहनों की आजीवन रक्षा का संकल्प लिया। इस त्योहार को लेकर बालिकाओं, किशोरी और युवतियों में खासा उत्साह था। विगत कई दिनों से बहने त्योहार को लेकर तैयारी कर रही थी। पूजा-अनुष्ठान के दिन अहले सुबह उठकर पूजा की तैयारी की। पूजा-अर्चना करते हुए भाई के लिए ईश्वर से प्रार्थना की। भाई और बहन के इस पवित्र त्योहार को निभाने को लेकर कई भाई दूसरे जिलों से भी अपनी बहनों के पास आए हुए थे। जबकि कई बहनें भी अपने भाइयों के घर पर पहुंचकर उनका तिलक लगाकर अभिनंदन किया। इस पूजा को लेकर एक अलग ही वातावरण नजर आ रहा था। भाई और बहन के बीच अटूट और पवित्र प्रेम का उदाहरण भैया दूज के त्योहार को लेकर पूरे परिवार में एक उत्साह और उल्लास का माहौल था। शहर तो शहर गांव में भी पूजा को लेकर आवश्यक तैयारी की गई थी।