साहिबगंज ( उधवा ) । प्रखंड क्षेत्रों में शनिवार को काली पूजा का त्योहार शांतिपूर्वक व हर्षोल्लास के साथ संपन्न हो गया। जानकारी के अनुसार प्रखंड क्षेत्र के आतापुर पंचायत में शनिवार को मल्लिक परिवार ने शांतिपूर्वक व हर्षोल्लास के साथ काली पूजा त्योहार संपन्न किया।इस अवसर पर समाजसेवी काजू मल्लिक के रिश्तेदार पश्चिम बंगाल राज्य के कलकत्ता,मालदा,समेत झारखंड के दूर दराज से अपने पुश्तैनी गांव आता पुर पहुंचे।इस दौरान मल्लिक परिवार ने बड़ी आस्था के साथ काली पूजा पर्व को मनाया।इस अवसर पर समाजसेवी काजू मल्लिक ने कहा की अपने पूर्वजों के काली मंदिर में प्रत्येक वर्ष सह परिवार के साथ काली पूजा का त्योहार को हर्षोल्लास के साथ मनाते आ रहे है।साथ ही बताया की साल में एक बार काली पूजा पर उनके रिश्तेदार बंगाल व झारखंड से आतापुर पहुंचते है और सह परिवार के साथ काली पूजा के त्योहार को मनाया जाता है।आगे बताया की इस काली मंदिर में लगभग 87 वर्षों से पूजा अर्चना की जा रही है।उन्होंने काली पूजा के बारे में जानकारी देते हुए बताया की राक्षसों का नाश करने के लिए मां दुर्गा ने काली रूप में अवतार लिया। इसलिए माना जाता है कि मां काली की पूजा करने से जीवन के सभी कष्ट, पीड़ाओं और शत्रुओं का नाश हो जाता है। मां काली की पूजा जन्‍मकुंडली में बैठे राहु और केतु को शांत करने के लिए भी किया जाता है।इस मौके पर शिव शंकर मल्लिक,पिनाकी मल्लिक,मामा चरण मल्लिक,भैरव नाथ मल्लिक,विपासा मल्लिक, बिदिसा मल्लिक,रायना मल्लिक,सुजाता मल्लिक समेत मल्लिक परिवार मौजूद थे।