साहिबगंज ( तालझरी ) । छठ पूजा हिंदुओं के प्रमुख त्योहारों में से एक हैं। बता दें कि छठ पूजा का त्योहार 4 दिनों में संपन्न होता है। हर दिन का एक अलग महत्व है।हर दिन अलग-अलग पूजा की जाती है।नहाय खाय की पूजा के साथ ही छट की शुरुआत होती है।सोमवार को कद्दू भात खाने के साथ ही चार दिवसीय लोक आस्था का महापर्व शुरू हो गया है।लोक आस्था का महापर्व छठ लोग बड़े ही धूमधाम से मनाते है। गावं हो या शहर सभी जगह भक्ति की धारा बहने लगी है। इसमें परदेश में रहने वाले लोग भी अपने घर पर्व मनाने आते है। कद्दू भात को लेकर बाजार में चहल पहल काफी तेज रही। दाल की कीमत बाजार में पहले से सातवें आसमान पर था। छठ आने के साथ ही कद्दू की भी कीमत में तेजी आ गई।मंगलवार को खरना और बुधवार को अस्ताचलगामी सूर्य को अ‌र्घ्य देंगे और गुरुवार को उदयीमान सूर्य को दूसरा अ‌र्घ्य देने के साथ ही चार दिवसीय महापर्व समाप्त हो जाएगा। वहीं क्षेत्र के विभिन्न छठ घाटों को साफ़ सफाई व घाठ बनाने की तैयारी में लोग जुट गए हैं। वहीं महाराजपुर गंगा घाट में लोगों द्बारा प्रशासन की उपर नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा की छठ घाट बनाने में प्रशासन के द्बारा किसी प्रकार का सहयोग नहीं मिल रहा हैं स्थानीय ग्रामीणों के मदद से अपने से छठ घाट की साफ-सफाई व घाट बना का कार्य की जा रही हैं।