लोहरदगा । महापर्व छठ को लेकर मंगलवार को खरना संपन्न होने के साथ ही 36 घंटे का कठोर निर्जला व्रत शुरू हो गया। खरना के बाद व्रतियों ने प्रसाद देर रात तक लोगों के बीच वितरण किया।