पाकुड़ ( लिट्टीपाड़ा ) । आगमी गुरुवार को थाना क्षेत्र के छोटा सुरजबेडा – बिचपाहड़ आरईओ पथ पर तेसोकुंडी गाँव के समीप के ट्रेक्टर ने बाइक चालक को पीछे से ठोकर मारने से एक महिला की मौत हो गयी थी । जबकि पति व बच्चा गम्भीर रूप से घायल हो गया।मिली जानकारी के अनुसार करमाटाड़ पँचायत क्षेत्र के छुरिधारी गाँव निवासी सामु पहड़िया (24वर्ष) व पत्नी बामनी पहाड़िन(22 वर्ष) अपने पुत्र अबिल पहाड़िया (एक वर्ष)का इलाज कराने लिट्टीपाड़ा आया था और इलाज करवाकर घर वापस अपने बाइक से लौट रहा था।कि अडानी कम्पनी के ट्रेक्टर जो हाई पावर बिजली सप्लाई के लिए खम्भा गाड़ने तथा तार खीचने का कार्य किया जा रहा है। उसी का सामान लेकर ट्रेक्टर अमरभिटा की ओर जा रहा था। पीछे से बाइक चालक सामु पहाड़िया ने ट्रेक्टर चालक से होर्न बजाकर साइड मांगा।साइड मिलते ही सामु बाइक लेकर जैसे ही आगे बढ़ा ही था कि ट्रेक्टर चालक ने बाइक को पीछे से ठोकर मार दिया। जिससे बाइक चालक सामु पहाड़िया व पुत्र अबिल ,सड़क से दूर जाकर गिरा और जख्मी हो गया। जबकि बाइक पर पीछे बैठी बामनी पहाड़िन सड़क पर ही गिर गयी और ट्रेक्टर के टोली के चक्के के नीचे आ कर दब गई।जिससे वह गम्भीर रूप से घायल हो गयी।तेसोकुंडी के ग्रामीणों ने सभी घायलों को तुरंत इलाज के लिए लिट्टीपाड़ा सामुदायिक केंद्र ला रहा था कि रास्ते मे ही बामनी पहाड़िन ने दम तोड़ दिया।जिसे सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के चिकित्सक डॉ ए.उद्दीन ने मृत घोषित कर दिया था। शुक्रवार को परिजनों व ग्रामीणों ने थाना के समाने अक्रोशित होकर दुमका -पाकुड़ मुख्य सड़क को करीब पाँच घंटे तक जाम रखा गया है।बाद में प्रशासन से लिखित आश्वासन मिलने के बाद करमाटांड़ पंचायत के मुखिया माली पहाड़ीन ,पूर्व मुखिया नोरेन नंदो जी व ग्रामीण के प्रयास से प्रशासन ने नगद दस हजार रुपये का चेक परिजनों को सौंपा गया।और जाम को हटाया गया।मृतिका का पति सामु पहाड़ीया ने कहा कि अभी हमको दस हजार रुपये प्रशासन की ओर से दिया गया है।बाद में मृत्यु प्रमाण पत्र बनाने के बाद एक लाख रुपये देने की बात कहीं गई।अगर समय पर नहीं दिया जाएगा
फिर से सड़क जाम किया जाएगा ।
एसआई मिंटू भारती ने बताया कि शव को पोस्टमार्डम के लिए सदर अस्पताल पाकुड़ भेज दिया गया था और वाहन को जप्त कर अज्ञात वाहन चालक के विरोध मामला दर्ज किया गया है।

भाजपा नेता दानियल किस्कू ने कहा :- परिजनों को उचित मुवाआ के लिए हर संभव मदद दिलाने मे सहायोग करेंगे। प्रशासन की लापरवाही के कारण आए दिन इस क्षेत्रों मे अवैध ट्रैक्टर का परिचालन जारी है।आडाणी पावर प्लांट के द्वारा इस मे बिजली खम्भे का कार्य किया जा रहा है।जो खम्भे गड़ने के लिए समाने के लकड़ी को काटकर बिना नम्बर प्लेट लगे अवैध ट्रैक्टर से लकड़ी ढोया जाता है। वन विभाग जिससे लोगों मे भय को महौल पैदा हो रहा है।बार बार इस मे अक्सीडेंट होते रहते हैं।विभाग के पदाधिकारी कड़ी कारवाई होने नाकाम सबित हो रहे है।जिससे आम लोगों को अपना जान देकर चुकना पड़ रहा है।अभी तक प्रशासन जगे नहीं है।

इस मौके पर अंचल निरीक्षक लिट्टीपाड़ा,अंचल कर्मचारी,छोटा बाबू सुरेश उरांव,एस आए मिंटू भारती,करमाटांड़ मुखिया माली पहाड़ीन, मुखिया शिव टुडू आदि मुख्य रूप से मौजूद थे।