रामगढ़। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद रामगढ़ के द्वारा सोमवार को झारखंड़ स्थापना दिवस एवं धरती आबा भगवान बिरसा मुंडा की जयंती व जनजातीय गौरव दिवस के अवसर पर भाषण प्रतियोगिता का आयोजन रामप्रसाद चंद्रभान सरस्वती विद्या मंदिर रामगढ़ में किया गया। जहाँ जिला भर से आये छात्रों ने महिला सशक्तिकरण,बिरसा मुंडा की जीवनी,उभरता भारत नई आशाएं, झारखंड के क्रांतिकारी जैसे विषयों पर अपनी बातों को रखा कार्यक्रम में मुख्य रूप से अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के प्रांत सह मंत्री नवलेश सिंह एवं एबीवीपी के पूर्व कार्यकर्ता वर्तमान में भाजयुमो के जिला अध्यक्ष राजेश ठाकुर , भाजपा झारखंड प्रांत के संयोजक खेल कला विभाग कीर्ति गौरभ उपस्थित हुए। कार्यक्रम की शुरुवात दीप प्रज्ज्वलित कर किया गया। नवलेश सिंह ने भगवान बिरसा मुंडा की जीवनी पर प्रकाश डालते हुए कहा कि भगवान बिरसा मुंडा ने ईसाई मिसनरियों द्वारा आदिवासियों के धर्म परिवर्तन करने का पुरजोर विरोध किया था। बिरसा मुंडा ने जमींदारों के द्वारा किसानों मजदूरों पर हो रहे शोषण का भी विरोध किए थे। किसानों मजदूरों और आदिवासियों के लिए लगातार लड़ाई लड़ते रहे।बिरसा मुंडा अपना सारा जीवन आदिवासियों की हक़ की लड़ाई में लगा दिया। जिला संयोजक स्मृति सौरव ने कहा कि भगवान बिरसा मुंडा आज के युवाओं के प्रेरणा श्रोत है। और उनसे प्रेरणा लेकर युवाओं की देश के प्रति और समाज के प्रति अपना योगदान देना चाहिए। भाषण प्रतियोगिता में प्रथम स्थान सम्मी कुमारी,द्वितीय स्थान अमीषा कुमारी, तृतीय स्थान श्रद्धा कुमारी, सभी प्रतिभागी को सम्मान प्रमाण पत्र देकर सभी को सम्मानित किया गया। मौके पर नगर मंत्री अभिषेक पांडे, नगर सह मंत्री राजेश मुंडा, भूमि सिंह , अंजनी कुमारी, सूरज कुमार,सपना कुमारी,रेणुका कुमारी, सुदीप कुमार, सौरभ सिन्हा, इंद्रजीत सिंह, राजेश दास, राजू कुमार महतो, विक्की कुमार, संगठन मंत्री बिक्रम राठौर आदि मौजूद थे।