पंचायत सचिव को हटाने की कि मांग

लोगो को नही दी गई थी सूचना

हिरणपुर (पाकुड़)। शुक्रवार को बरमसिया में आयोजित आपके अधिकार , आपकी सरकार , आपके द्वार कार्यक्रम ग्रामीणों की भारी विरोध के बाद बीडीओ उमेश कुमार स्वांसी ने स्थगित कर दिया। कार्यक्रम की सूचना न देने को लेकर ग्रामीणों ने पंचायत सचिव अशोक यादव को अविलम्ब हटाने की मांग किया। पूर्व निर्धारित इस कार्यक्रम को लेकर गाँव मे शिविर आयोजित किया गया था। जिसमे सभी विभागों के स्टाल भी लगाया गया था। इसमे लोगो की उपस्थिति भी बढ़ने लगा था। इसी बीच बरमसिया , केंदुआ ,चौकीधाप आदि गाँवो के आदिवासियों ने कार्यक्रम की सूचना न देने को लेकर विरोध जताने लगा। ग्रामीण सुमन किस्कु , मुंशी सोरेन , प्रधान प्रदीप बेसरा , सुभास्टिन किस्कु , अल्बिनुस हेम्ब्रम , विश्वनाथ मुर्मू , बेंजामिन मरांडी आदि ने शिविर में आकर विरोध जताते हुए कहा कि पंचायत सचिव द्वारा इस कार्यक्रम की जानकारी नही दी गई है। वही पंचायत सचिव मनमाने ढंग से कार्य कर रहा है। नो नम्बर वार्ड के लोगो को अभी भी प्रधानमंत्री आवास योजना से नही जोड़ा गया है। वही बिचौलिया के माध्यम से कार्य कर रहा है। पंचायत सचिव के मनमानी कार्यशैली से पंचायत के लोग काफी परेशान है। जिसे अविलम्ब इस पंचायत से हटाया जाए। वही इस शिविर को स्थगित कर दिया जाय। इसको लेकर ग्रामीणों ने बीडीओ को एक आवेदन देकर पंचायत सेवक के ऊपर कार्रवाई की मांग की। इसको लेकर बीडीओ ने ग्रामीणों के साथ काफी देर तक वार्ता किया। जहाँ ग्रामीण कार्यक्रम को स्थगित कराने को लेकर डटे रहे। बीडीओ ने सभी ग्रामीणों को आश्वस्त किया कि कार्यक्रम को स्थगित की जा रही है। जो आगामी एक दिसम्बर को होगी। वही पंचायत सचिव के ऊपर आवश्यक कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा दी जा रही योजनाओं की लाभ सभी को मिलेगी। प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ सभी योग्य लाभको को मिलेगा। आगामी अप्रेल माह में पुनः नए लाभुको को इस योजना से जोड़ा जाएगा। इसमे सभी लोग अभी आवेदन जमा कर सकते है। जिसकी जाँच की जाएगी। वही बीडीओ ने पेंशन , धान अधिप्राप्ति , मनरेगा सहित सभी विकासमूलक व लोक कल्याणकारी योजनाओं की विस्तृत जानकारी दिया।इस मौके पर बीपीआरओ राजेश कुमार रमण , बीपीओ अजित टुडू , कृषि पदाधिकारी सूर्या मालतो , बीटीएम मो. जुनैद , झामुमो प्रखंड अध्यक्ष इसहाक अंसारी , अशोक भगत , बीईईओ दीनबन्धु मोदी , मुखिया रानू रंजन मुर्मू आदि उपस्थित थे।