सिमडेगा | कांग्रेस प्रदेश सदस्य सह इंटक प्रदेश सचिव दिलीप तिर्की द्वारा सिमड़ेगा अटल पार्क में एक बैठक रखा गया जिसमें इंटक जिलाध्यक्ष अरुण पाढ़ी, नगर परिषद अध्यक्ष पुष्पा कुल्लु सहित 12 वार्ड उपस्थित हुए। जिसमे नगर परिषद द्वारा 15वें वित्त से निकाले गए निविदा में हुए मनमानी के खिलाफ बैठक हुई। वार्डो ने कहा कि हम सबने अपने अपने वार्ड के अति महत्वपूर्ण कार्यों को चिन्हित कर भेजा था। लेकिन सिर्फ 8 वार्डों में करोड़ों रुपयों को बांट दिया गया। कार्यपालक से पूछने पर कहा कि ऊपर से ही नगर विकास द्वारा चिन्हित कर कार्यों को वार्ड में बंटा गया है।यहाँ तक कि कार्य समिति तक को कोई जानकारी नही दी गई। न ही कोई विचार विमर्श किया गया। सबने कहा आखिर पूरे 20 वार्ड के पार्षदो ने योजना दिया लेकिन कैसे बाकी वार्ड को छोड़ दिया गया। मौके पर दिलीप ने कहा सरकारी उदासीनता के कारण नगर परिषद की मनमानी बढ़ती जा रही। नगर परिषद क्षेत्र की हालत बहुत खराब है और जिस तरह से अधिकारियों की मनमानी चल रही है, यह बिल्कुल सही नही है। वो अपनी मनमानी कर चले जायेंगे किंतु हमे हमारे लोगो के बीच रहना और जवाब देना है। नगर की जनता ने आप सबको अपना जनप्रतिनिधि सिर्फ इसलिए बनाया है कि आप उनकी विकास के लिए पहल करे और कार्य करें।लेकिन यह जो जो हालात है, वह बहुत गंभीर है। जनप्रतिनिधि जनता के आवाज होते है, जिसे ये दबाने की कोशिश की जा रही है। हम उपायुक्त महोदय को आवेदन के माध्यम से टेंडर कैंसिल कराकर फिर से सभी वार्डो को ध्यान में रखते हुए कार्य आवंटित कर निविदा कराने की मांग करेंगे साथ ही नगर विकास निदेशक से भी बात करेंगे। दिलीप ने यह भी कहा कि सभी वार्ड पार्षदों में एकता नही होने के कारण ऐसी परिस्थितियों का सामना करना पड़ता है।मौके पर आवेदन द्वारा सभों ने उपायुक्त और नगर विकास निदेशक को अपनी मांग को रखा। मौके पर नगर अध्यक्ष पुष्पा कुल्लु, राकेश लकड़ा, कासिम रजा, शाशि गुड़िया, विभूति नाथ बड़ाईक, अज़ीमुल्ला अंसारी, विजय राम, प्रतिमा देवी,फिलग्रीम, अनिल तिर्की, वसीम करीम, सुचिता एक्का,शीला टोप्पो मौजूद थे।