ग्रामीणों को सरकारी योजनाओं की जानकारी देते हुए दिलाए योजनाओं के लाभ

आपके अधिकार आपकी सरकार आपके द्वार कार्यक्रम के तहत जिला प्रशासन लगातार जिले के अंतीम व्यक्ति तक सरकार की स्वर्णमयी योजनाओ के लाभ पंहुचाने की कवायद में जुटी है। बुधवार को उपायुक्त सिमडेगा सुशांत गौरव सिमडेगा के सुदुर नक्सल प्रभावित क्षेत्र जाकर ग्रामीणों को सरकारी योजनाओं का लाभ दिए।
सिमडेगा के नक्सल प्रभावित क्षेत्र में पंहुच उपायुक्त ने लगाए सरकार आपके द्वार। उपायुक्त सिमडेगा सुशांत गौरव ने आपके अधिकार, आपकी सरकार- आपके द्वार कार्यक्रम के तहत नक्सल प्रभावित बानो प्रखंड के बेड़ाइरगी पंचायत भवन में आयोजित विशेष शिविर में भाग लिए। उपायुक्त ने ग्रामीणों को योजनाओं के प्रति जागरूक एवं विभागों के स्टॉल का निरीक्षण करते हुए कार्यक्रम की विधि-व्यवस्था का जायजा लिया. उपायुक्त ने समेकित रूप से दीप प्रज्वलित करते हुए आपके अधिकार, आपकी सरकार-आपके द्वार कार्यक्रम में उपस्थित ग्रामीणों से उनकी समस्याओं से रूबरू हुये, उन्हे समस्या के निराकरण हेतु आवश्यक जानकारियां देते हुए उन्हे सरकार की कल्याणकारी योजनाओं के प्रति जागरूक एवं अधिकार के प्रति प्रेरित किया।उन्होने कहा कि विगत माह में किसानों का फसल अधिक बारिश होने के कारण खेत-खलिहान में कटनी के बाद रखे होने के कारण फसल खराब हो गई, इस दिशा में संबंधित किसानों को मुआवजा दिलाने की कार्रवाई की जा रही है। साथ हीं आपदा से संबधित गांव में हाथी आने से फसल की क्षति एवं अन्य क्षतिपूर्ति का मुआवजा राशि, सड़क दुर्घटना, बिजली से मृत्यु जैसे आपदा की घड़ी में लाभ दिया जाता है. ऐसे समस्या अगर आपके गांव-पंचायत में हो तो, इस शिविर में आवेदन के माध्यम से दें, विभाग के पदाधिकारी के द्वारा त्वरित कार्रवाई सुनिश्चित की जाएगी. सरकारी तंत्र के माध्यम से आपके द्वार पर सुविधाओं का लाभ दिया जा रहा है, इसका आप सभी ग्रामीण जन लाभ अवश्य लें, अपने समस्याओं का निराकरण करायें। उपायुक्त ने ग्रामीणों से कहा कि शिविर में कृषि एवं आत्मा विभाग के द्वारा कृषि का स्टॉल लगाया गया है, जहां आप कृषि कार्य से संबंधित समेकित जानकारी लें सकते है, साथ हीं योजना का लाभ लेने हेतु आवेदन भी करें। साथ हीं कहा कि जिले में पशुपालन की योजना से अधिक से अधिक ग्रामीण लाभुक को आच्छादित किया जाना है, इस हेतु आप सभी ग्रामीण बकरी, सुकर, मर्गी पालन जैसी योजना के लिए आवेदन विभाग के काउन्टर में दें। उन्होने श्रम निबंधन कराने की बात कही। कहा कि श्रम कार्ड से निबंधित श्रमिक को स्वंय की रक्षा के साथ-साथ परिजनों को भी इससे लाभ होता है। मुआवजा सहित बच्चों के पढ़ने के लिए छात्रवृति भी दी जाती है. शिक्षा विभाग के द्वारा छात्र-छात्राओं को पोषाक, साइकिल एवं कल्याण विभाग के द्वारा छात्रवृति दी जाती है।
जिन्होने कोविड का टीका ले लिया है, उन्हे धन्यवाद् देते हुए उपायुक्त ने जिन्होने दूसरा डोज नहीं लिया है उन्हे दूसरा डोज लेने एवं जिन्होने कोविड का टीका नहीं लिया है, उन्हे टीका का लाभ लेने हेतु जागरूक एवं प्रेरित किया। उन्होने कहा कि किसी के बहकावे में न जायें, स्वंय के विवेक का सही इस्तेमाल कर समय पर टीका लाभ लेते हुए स्वंय की रक्षा के साथ-साथ गांव – समाज का भला करें. कोविड का टेस्ट समय-समय पर कराते रहें. उन्होने बच्चों के अभिभावकगण से कहा कि बच्चे का भविष्य आपके हाथों में है, उनका अच्छे से देख-भाल करें। इसके अलावे उन्होने विशेष शिविर में लगाये गए विभाग के स्टॉलों की ओर इंगित करते हुए योजनाओं के प्रति ग्रामीणों को जागरूक किया।
प्रखण्ड प्रशासन के द्वारा सरकार की कल्याणकारी योजनाओं का लाभ एवं ग्रामीणों की समस्याओं का निराकरण किया गया।
मौके पर मुखिया, प्रखण्ड विकास पदाधिकारी बानो, थाना प्रभारी सहित प्रखण्ड प्रशासन उपस्थित थे।