साहिबगंज। साहिबगंज के शहरी क्षेत्र के कई इलाके को डेंजर जोन घोषित करते हुए चानन स्थित एसटीपी प्लांट संचालकों ने उस इलाके में लोगों के आवागमन पर रोक लगा दी है। बता दें कि पिछले एक माह से इलाके में लगातार गंगा कटाव की स्थिति बनी हुई है।साहिबगंज में कबूतरखोपी, चानन, मलाहीटोला, पुरानी साहिबगंज व ओझा टोली गंगा तट पर करीब एक माह से कटाव तेजी से हो रहा है। इससे यहां रह रहे लोग दहशत में है। लोगों को चिंता सता रही है कि कटाव नहीं रुका या फिर जिला प्रशासन द्वारा जल्द ही कोई उपाय नहीं किया गया तो आने वाले दिनों में सभी लोगों का घर गंगा मे समा जाएगा।

नगर परिषद अध्यक्ष ने कहा

इस संबंध में नगर परिषद अध्यक्ष श्रीनिवास यादव ने कहा कि गंगा कटाव और प्लांट के बारे में जिला प्रशासन तथा सरकार को सूचना दे दी गई है। यदि सीवरेज प्लांट कटाव की जद में आता है तो सारा सीवरेज सिस्टम फेल कर जाएगा। गंदा पानी गंगा में जाना शुरू हो जाएगा, इसलिए प्लांट को बचाना जरूरी है। इस दिशा में पहल की जा रही है।

अबतक 400 बीघा जमीन गंगा कटाव की चढ़ चुकी भेंट

शहरी इलाके में लगभग 400 बीघा जमीन गंगा कटाव की भेंट चढ़ चुकी है, जिससे इस इलाके में रोजी – रोटी की समस्या का खतरा मंडरा रहा है। ग़रीबी में अपना जीवन यापन कर रहे लगभग 500 परिवारों के समक्ष आर्थिक समस्याएं खड़ी हो गई है। वहीं गंगा कटाव की रफ्तार को देखते हुए उस इलाके के दर्जनों घर गंगा कटाव की भेंट चढ़ने की संभावना बनती जा रही है। हालांकि उस इलाके के ग्रामीण लगातार जिला प्रशासन व जनप्रतिनिधियों से इसकी शिकायत कर जल्द से जल्द वहां गंगा कटाव रोधी कार्य करवाने एवं समस्याओं से निजात दिलाने की मांग करते रहे हैं, बावजूद इसके अब तक सर्वे के सिवा उस इलाके में कुछ नहीं किया जा सका है, जिससे ग्रामीणों में भय की स्थिति बनी हुई है। जबकि चानन इलाके में बने सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट के भी गंगा कटाव की जद में आ जाने से नगर परिषद और जिला प्रशासन की परेशानी बढ़ती जा रही है।