साहिबगंज। उपायुक्त राम निवास यादव की अध्यक्षता में रविवार को सीधो कान्हू सभागार में संबंधित पंचायतों के मुखिया गण,प्रखंड विकास पदाधिकारी, पंचयात सचिव के साथ मुखिया सम्मेलन सह कार्यशाला आयोजित किया गया।कार्यशाला के दौरान उपायुक्त श्री यादव ने सभी मुखियाओं को संबोधित करते हुए कहा कि पंचायती राज संस्थान लोकतंत्र की सबसे अहम कड़ी है और पंचायती राज संस्थानो का स्वामित्व मुखिया के पास है, साथ ही पंचयात भवन के रख रखाव एवं पंचयात स्तर से क्रियान्वित होने वाली योजनाओं को समाज के अंतिम व्यक्ति तक पहुंचाने की ज़िम्मेदारी भी आपकी है।उन्होंने कहा कि दूर दाराज़ इलाक़ों से आने वाले ग्रामीण, ग़रीब लोग, किसान, ज़रुरतमंद लोग,वृद्ध, दिव्यांग सभी को हक दिलाना सभी मुखिया और ग्राम प्रधान का कर्तव्य है।

पंचयात भवन की ज़िम्मेदारी मुखिया की है- उपायुक्त

कार्यशाला के दौरान उपायुक्त ने बताया कि आपके अधिकार आपकी सरकार आपके द्वार कार्यक्रम के क्रम में उनके द्वारा एक पंचयात भवन का निरीक्षण किया जहां की व्यवस्थाएं बेहद असंतोषजनक है।इसी संबंध उन्होंने सभी मुखियाओं को 28 दिसंबर से पहले अपने अपने पंचयात भवनों का निरीक्षण करने तथा वहां साफ़ सफ़ाई करते हुए वहां हर व्यवस्था को सुदृढ़ करने, सभी सुविधाओं को दुरुस्त करने, वहां फर्नीचर की स्थिति, कंप्यूटर इक्यूपमेंट, तथा अन्य इक्यूपमेंट की स्थिति का रिपोर्ट देने का निर्देश दिया।इस दौरान उपायुक्त ने कहा कि जिस पंचायत में पंचयात भवनों,पंचयात कार्यालय की स्थित और मूलभूत सुविद्याओ का हाल बुरा रहेगा उसकी ज़िम्मेदारी मुखिया को समझते हुए आगामी पंचयात चुनाव में उन्हें एनओसी न देने हेतु कार्यवाही की जाएगी और संबंधित पंचायत सचिव और रोजगार सेवक पर उचित कार्यवाही भी की जाएगी।इस दौरान उन्होने संबंधित पंचायतों में पंचायत दिवस के दिन स्वयं उपस्थित रहते हुए सभी पंचायत कर्मियों की उपस्थिति सुनिश्चित कराने और लोगों की समस्याओ का निदान कराना सुनिश्चित करने का निर्देश दिया।कार्यक्रम में आपके अधिकार आपकी सरकार आपके द्वारा कार्यकम में मुखिया, ग्राम प्रधान, जन प्रतिनिधियों को उपस्थित रहने का भी निर्देश दिया।कार्यक्रम के दौरान उपायुक्त ने सभी से कहा कि पंचायत स्तर पर ली जाने वाली योजनओं में पारदर्शिता बरतते हुए, क्षेत्र और टोला विशेष पर ही योजनाएं न लें बल्कि पूरे गांव के समग्र विकास को ध्यान में रखते हुए योजनाओं का चयन करें।इस दौरान आवास प्लस की शिकायत पर संज्ञान लेने और उसे दूर कराने,कोविड वैक्सिनेशन में सहयोग करने,प्रमाण पत्र निर्गत संबंधित शिकायतों को दूर करने,सड़क दुर्घटना की रिपोर्ट जिला को उपलब्ध कराने तथा पीड़ित के आश्रित को मुआवजा दिलाने का निर्देष दिया।इसके अलावा कार्यशाला में मुखिया उसे संवाद करते हुए उपायुक्त श्री यादव ने संबंधित पंचायत में उनकी समस्याओं से रूबरू हुए।कार्यशाला के दौरान उपायुक्त के अलावे उप विकास आयुक्त प्रभात कुमार बरदियार,जिला पंचायती राज पदाधिकारी ओंकारनाथ सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी सभी मुखिया गण ग्राम प्रधान पंचायत सचिव एवं अन्य उपस्थित थे।