प्रखंड एवं पंचायत स्तर तक कमिटी गठन कर मजदूर हक की आवाज बनेगी इंटक

मजदूरों को उनके अधिकार दिलाने के लिए,जागरूकता एवं प्रशिक्षण कार्य चलाएगी इंटक

चाईबासा। प० सिंहभूम जिला इंटक कार्यकारिणी की पहली बैठक रविवार को इंटक जिला अध्यक्ष लखन बिरुआ कि अध्यक्षता में प्रदेश इंटक उपाध्यक्ष विनोद कुमार राय, संयुक्त सचिव महेंद्र मिश्रा और इंटक कोल्हान प्रभारी राणा सिंह की गरिमामय उपस्थिति में कांग्रेस भवन में रविवार को संपन्न हुआ। बैठक में मुख्य रूप से इंटक संगठन को मजबूत बनाने के लिए प्रखंड से लेकर पंचायत स्तर तक जिला इंटक के तत्वधान में कमेटी गठन करने और मजदूर हित के लिए मजदूरों के बीच काम करने पर बल दिया गया।प्रदेश इंटक के नेताओं ने बैठक में विचार रखते हुए कहा कि संगठित क्षेत्र के मजदूरों के हित रक्षा के लिए काम करते हुए, असंगठित क्षेत्र के मजदूर,तथा प्रवासी मजदूरों को जोड़ते हुए उनकी हित की भी लड़ाई लड़नी है, साथ ही इस बात पर चर्चा हुई की, केंद्र की मोदी सरकार ने जो नया श्रम कानून लाया जा रहा है ,वह बिल्कुल भी मजदूरों के हित में नहीं है ,काम के बारह घंटे कर दिए गए है, मजदूरों को अपने हक की आवाज दबाने के लिए कानून में परिवर्तन किया जा रहा है,मजदूरों को न्यूनतम वेतन, स्वास्थ व्यवस्था ,सुरक्षा व्यवस्था, एवं सामाजिक सुरक्षा जैसी केंद्र और राज्य सरकार से प्रदत सुविधाएं दिलाने के लिए अपने अधिकारों के प्रति सचेत करने के लिए, पश्चिमी सिंहभूम जिला इंटक कमेटी मजदूरों के बीच जागरूकता लाने के लिए, प्रशिक्षण कार्यक्रम चलाएगी, आज के कार्यक्रम में मुख्य रूप से पोंडेराम सामड, डुचा टोप्पो, दिलबाग सिंह, विनोद सिंह, जितेंद्र नाथ ओझा, पवन सावैयां, दीपक कुमार राम एवं राजेंद्र कच्छप नें अपने विचार रखें कार्यकारिणी बैठक का संचालन त्रिशानु राय एव धन्यवाद ज्ञापन सिद्धार्थ होनहागा ने किया
आज के बैठक में तपन घोष ,राणा बोस, राजू कारवा, मो०असलम , विश्वजीत तांती, मामा राम तांती, नारायण निषाद सोनू कारवा , कृष्णा कारवा आदि मौजूद थे ।