रांची । अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् राँची महानगर के द्वारा एस एस मेमोरियल कॉलेज में भारतरत्न बाबा साहेब डॉक्टर भीमराव अंबेडकर जी के महापरिनिर्वाण दिवस पर समरसता दिवस मनाई गई एवं बाबा साहेब भीम राव अम्बेडकर जी के चित्र पर माल्यार्पण कर पुष्पांजलि अर्पित की वही एस एस मेमोरियल कॉलेज के प्रधानाध्यापक एस के सिन्हा ने कहा कि डॉ० भीमराव अंबेडकर के संविधान की ताकत के वजह से भारत विश्व का सबसे बड़ा लोकतांत्रिक देश बनने में अपनी अग्रणी भूमिका बना पाया है।

वक्ता के अगले कड़ी में क्षेत्रीय संगठन मंत्री निखिल रंजन जी ने बाबा साहेब के विचारों को याद करते हुए कहा कि आधुनिक भारत के राष्ट्र निर्माताओं की अग्रणी पंक्ति में रहे डॉ. भीमराव अंबेडकर के विचार छात्रों को सामाजिक न्याय , बंधुत्व और समानता की दिशा में कार्य करने हेतु प्रेरित करते हैं। विद्यार्थी परिषद् बाबा साहब के विचारों से प्रेरित होकर सामाजिक समरसता स्थापित करने हेतु सदैव प्रयासरत है। हमारे विभिन्न प्रकल्पों तथा कार्यक्रमों में सामाजिक न्याय सुनिश्चित करने में उल्लेखनीय प्रयास किए हैं।

अगले वक्ता के रूप में प्रान्त संगठन मंत्री याज्ञवल्क्य शुक्ल ने कहा कि अद्भुत समाज सुधारक, अप्रतिम विधिवेत्ता, वंचितों व शोषितों के उत्थान हेतु आजीवन समर्पित, संविधान शिल्पी, भारत रत्न बाबा साहब डॉ. भीमराव आंबेडकर को उनके महापरिनिर्वाण दिवस पर कृतज्ञ राष्ट्र की ओर से कोटिशः नमन करता हुँ। हमारे देश में जाति व्यवस्था एक बहुत बड़ी समस्या है, आज हमें इस सामाजिक समरसता दिवस के अवसर पर यह प्रण लेने की आवश्यकता है कि हम समाज में एकता को बढ़ाने तथा विद्वेष को मिटाने के लिए महत्वपूर्ण प्रयास करेंगे।युवाओं के भीतर वह शक्ति है जो देश को सामाजिक एकता के पथ पर अग्रसरित कर सकती है, हमें अपनी इसी रचनात्मक शक्ति का प्रयोग करना है। अंतिम में शुभम प्रोहित ने इस कार्यक्रम की समापन समय सभागार में उपस्तित छात्र -छात्राओ को धन्यवाद ज्ञापित किया।
मौके पर विभाग संयोजक अनिकेत सिंह,जिला संयोजक प्रेम प्रतीक केशरी,महानगर मंत्री पल्लवी गाड़ी,सह मंत्री सुभम प्रोहित,सह मंत्री अंकित रंजन, कार्यालय मंत्री शशि कांत सुमन,गुड्डू कुमार,सौरभ कुमार,विद्यानन्द,एवं अन्य छात्र एवं कार्यकर्ता उपस्थित रहे।