साहिबगंज। साहिबगंज महाविद्यालय परिसर में एनसीसी कैडेट्स की ओर से जनरल रावत के आकस्मिक निधन पर दो मिनट का मौन रख कर श्रद्धांजली अर्पित की गई। शौर्य चक्र सम्मानित देश के पहले CDS विपिन रावत, उनकी पत्नी और साथ में शहीद हुए वीर सेनानियो को भी अश्रुपूर्ण श्रदांजलि दी गई। मौके पर एनएसएस के नोडल अधिकारी सह पूर्व सिंडिकेट सदस्य डॉ. रणजीत सिंह ने कहा कि तमिलनाडु में हुए हेलीकाॅप्टर क्रेश में सीडीएस जनरल बिपिन रावत का निधन बेहद दुखद है। देश ने आज एक कुशल योद्धा, अद्भुत रणनीतिकार और अनुभवी नेतृत्वकर्ता को खो दिया। ईश्वर दिवंगत आत्मा को शांति प्रदान करें। दुख की इस घड़ी में मेरी संवेदनाएं परिजनों के साथ हैं। अपने शोक सन्देश में उन्होंने कहा कि जनरल बिपिन रावत का निधन देश के लिए एक अपूरणीय क्षति है। गंगा के प्रति अगाध प्रेम व आस्था रखने वाले जनरल रावत का सक्रिय सहयोग नमामि गंगे मिशन की गतिविधियों में भी हमें मिलता रहा है। गंगा संरक्षण के प्रति उनकी लगन प्रेरणादायक थी। ईश्वर उनके परिवार को इस दुःख को सहने की क्षमता दें। शोक सभा में सीनियर अवधेश कुमार यादव व शंकर कुमार यादव ने भी उनके द्वारा किए गए राष्ट्रीय सुरक्षा कार्य की सहारना की।
साथ ही गुरुवार की संध्या एनसीसी की ओर से शहीद चौक पर जनरल बिपिन रावत को श्रद्धांजलि देते हुए दीप जलाकर उनके राष्ट्र के प्रति, राष्ट्रीय सुरक्षा के प्रति, त्याग समर्पण और सर्वोच्च बलिदान को याद करते हुए दीप प्रज्वलित कर उनको श्रद्धांजलि दी जाएगी।
मौके पर कैडेट प्रकाश संतोष कुमार, हीरालाल मंडल, साजन यादव, जुली कुमारी, पूजा कुमारी, अलका कुमारी, प्रीति कुमारी, शक्ति कुमारी आदि उपस्थित थे।