खूंटी । खूंटी जिले के तपकरा थाना क्षेत्र के डेरांग गांव में शनिवार की शाम को पीएलएफआई के उग्रवादियों ने एक युवक की गोली मारकर हत्या कर दी थी. युवक के पेट में पांच गोलियां लगी थी. इससे युवक की घटनास्थल पर ही मौत हो गई थी. मृतक युवक डांरांग गांव के बिरसा मुंडा का 33 वर्षीय पुत्र गोपाल मुंडा है.

इस वारदात को अंजाम देकर उग्रवादी मौका ए वारदात से फरार हो गये. हालांकि पुलिस इस मामले की जांच शुरू कर दी लेकिन अब तक पुलिस किसी भी अपराधी को गिरफ्तार नहीं कर सकी है. घटना की जानकारी मिलते ही तपकरा थाना की पुलिस घटनास्थल पर पहुंची और आवश्यक छानबीन करने के बाद शव को अपने कब्जे में लेकर रविवार को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल खूंटी भेजा.

इस संबंध में खूंटी के एसपी आशुतोष शेखर का कहना है कि पुलिस की जांच में ये बात पता चली है कि इस घटना को पीएलएफआई के उग्रवादियों ने अंजाम दिया है. जल्द ही हत्या में शामिल लोगों को गिरफ्ताार कर लिया जायेगा.

इसे भी पढ़ें :बिल्डर को हर तीन महीने में देनी होगी रिपोर्ट कि कितना हुआ काम

परिजन बोले, किसी से नहीं थी दुश्मनी
पुलिस घटना के संबंध में परिजनों से जानकारी जुटाकर मामले की जांच पड़ताल शुरू कर दी है. मृतक के स्वजनों का कहना है कि उसकी किसी से किसी प्रकार का दुश्मनी नहीं थी. गोपाल गांव में रहकर ही कृषि कार्य करता था. तपकरा थना क्षेत्र में बढ़ते अपराधिक घटना से क्षेत्र के लोग दहशत में है.