पुरानी पेंशन योजना लागू करे सरकार ,राजेश कुमार

चतरा | पत्थलगड्डा प्रखण्ड में हेमंत सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया। राज्य सरकार से चुनावी घोषणा पत्र के आश्वासन के अनुसार लागू करने की मांग की। मांग किया कि एक समान पेंशन लागू हो, पुरानी पेंशन योजना लागू किया जाए। दो दिवसीय कार्यक्रम के दूसरे दिन कर्मियों ने प्रदर्शन कर सरकार से वादा पूरा करने की मांग की। मौके पर कहा गया कि कर्मचारी सरकार की नई पेंशन योजना 2004 से खफा हैं और उसे समाप्त कर पुरानी पेंशन योजना लागू किया जाए। कहा गया कि पेंशन सुरक्षा गारंटी का अभाव वर्तमान समय में है। आज शेयर मार्केट में निवेश के बाद मिले रिर्टन को पेंशन का आधार बनाया गया है जिसका संघ विरोध करता है। पुरानी पेंशन योजना लागू करने की मांग किया है
वहीं पत्थलगड़ा प्रखंड के सभी विद्यालयों सहित अन्य प्रकार के गैर शैक्षिक मुख्यालयों में चुनाव से पहले झारखंड सरकार के द्वारा कि गई वादा खिलाफी के अनुसार पुरानी पेंशन को लेकर एनएमओपीएस के प्रांतीय समिति के आवाहन पर 15 दिसंबर से 16 दिसंबर तक दो दिवसीय कार्यक्रम को सफलतापूर्वक संपन्न किया गया। इसके अंतर्गत सभी एनपीएस कर्मी झारखंड सरकार की वादा की बैच लगाकर,अपनी पुरानी पेंशन की मांग को लेकर, “अब बहुत हुआ इंतजार वादा पूरा करो सरकार” के स्लोगन के साथ झारखंड सरकार के खिलाफ आंदोलन का आगाज किया गया। इस दो दिवसीय कार्यक्रम में ओ पी एस के अंतर्गत आने वाले हर तरह के कर्मचारी भी एनपीएस कर्मियों को हर तरह की मदद की। साथ ही इस कार्यक्रम इस दो दिवसीय कार्यक्रम की समाप्ति पर सभी लोगों ने एकजुट होकर के यह निर्णय भी लिया कि यदि इस महीने के अंत तक झारखंड सरकार पुरानी पेंशन को लेकर कुछ निर्णय नहीं करती है तो जनवरी-फरवरी में जिला स्तरीय एवं राज्य स्तरीय वृहद कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा। सभी एनपीएस कर्मियों की एक ही मांग है, हमें बस पुरानी पेंशन चाहिए या भारत में सभी की पुरानी पेंशन बंद होनी चाहिए । साथ ही राज्य सरकार को चेताया भी गया की यदि सरकार अपनी घोषणा पत्र में किए गए वादे को यथाशीघ्र लागू करने की कोई घोषणा नहीं करती है तो सरकार के विरुद्ध बड़े से बड़े कर आंदोलन करने से भी एनपीएस कर्मी नहीं हिचकेंगे और इसका जो भी परिणाम होगा उसके लिए जिम्मेवार सरकार होगी।