साहिबगंज । बीते दिनों बोरियो थाना क्षेत्र के वेबसाइट अरुण शाह के अपहरण कर कर अपराधियों ने उनके परिजनों से फिरौती की मांग की थी जिसके बाद अपहरणकर्ताओं को धर दबोच ने के लिए जिले के दर्जनों पुलिसकर्मियों ने कई ठिकानों पर छापेमारी की उसके बाद अपराधियों को पकड़ने एवं अपहृत व्यवसाई अरूण साह को बरामद करने में पुलिस असफल हुई थी । फिरौती की रकम नहीं मिलने पर अपराधियों ने व्यवसाई अरुण शाह की हत्या कर मैदान में भेज दी थी ।इसी कार्रवाई के दौरान अपराधियों से मुठभेड़ एवं गोलीबारी के साथ-साथ पुलिस टीम पर जानलेवा हमला भी कुख्यात अपराधियों द्वारा किया गया था जिस हमले में बरहेट थाना के एएसआई चंद्रा स्वर्ण को गोली लगी थी और गंभीर रूप से घायल अवस्था में उन्हें हेलीकॉप्टर एंबुलेंस से आपातकालीन इलाज हेतु रांची रिम्स भेजा गया था कुछ दिनों के बाग अस्पताल में ही इलाज के दौरान एएसआई चंद्राय सोरेन की मृत्यु हो गई थी जिसके बाद पुलिस महकमे में खलबली मच गई थी मामले पर साहिबगंज जिला पुलिस अधीक्षक द्वारा कड़े निर्देश दिए गए थे कि जल्द से जल्द मामले पर सभी आरोपियों गिरफ्तार कर मामले का उद्भेदन करने हेतु लगातार प्रयासरत थी ।थाना क्षेत्र के मोतीपहाड़ी में अरुण साहा का फिरौती के लिए अपहरण कर हत्या करने एवं बरहेट थाना के सअनि चंद्राय सोरेन के हत्याकांड में फरार अभियुक्त लखीराम हेम्ब्रम को बरहरवा पुलिस निरीक्षक कुलदीप कुमार के नेतृत्व में गठित टीम ने असम से किया गिरफ्तार। साहिबगंज, गोड्डा एवं असम में दर्जनों अपहरण, हत्या व रंगदारी जैसे जघन्य अपराधिक कांडों में वांछित (नेशनल संथाल लिबरेशन आर्मी के डिप्टी कमांडर इन चीफ) कुख्यात अपराधी लखीराम हेम्ब्रम उर्फ एडविन सिंह सोरेन को गिरफ्तार करने वाले सभी तेज तर्रार पुलिस कर्मी (बरहरवा इंस्पेक्टर कुलदीप कुमार, रांगा थाना प्रभारी अमन कुमार सिंह, बरहेट थाना प्रभारी गौरव कुमार, बोरियो थाना प्रभारी जगन्नाथ पान सहित अन्य) को साहिबगंज पुलिस अधीक्षक अनुरंजन किस्पोट्टा ने प्रशस्ति पत्र प्रदान कर किया सम्मानित।