बरही । प्रखंड अंतर्गत भंडारों पंचायत के तेतरिया भंडारो निवासी सुमित्रा देवी पति बासुदेव मोदी जो सात वर्षों से अपाहिज व विकलांग है। वे उठने और बैठने में असमर्थ है। वे कई बार बरही अनुमंडलीय अस्पताल तो कई बार बरही प्रखण्ड तो उपायुक्त कार्यालय का चक्कर भी लगा चुंके है। शुक्रवार को बरही के भाजपा युवा नेता रितेश गुप्ता द्वारा सूचना दिए जाने के बाद मामले की जानकारी लेने बरही अनुमंडलीय अस्पताल पहुंचे तो वहीं पीड़ित महिला के पति बासुदेव मोदी फुट-फुट कर रोने लगे। उन्होंने बताया कि पीछे सात वर्षों से गांव की सेविका, मुखिया, बरही अस्पताल, बरही प्रखण्ड, उपायुक्त कार्यालय का चक्कर लगाकर थक चुंके है लेकिन कही से दिव्यांग प्रमाण पत्र नही बन पाया है। जिससे पूर्ण रूप से विकलांग होने के बाद में उनकी पत्नी को आज तक किसी प्रकार का सरकारी लाभ नही मिल पा रहा है। उनके पुत्र द्वारा उनकी पत्नी के इलाज में कोई सहयोग नही किया जाने से काफी ज्यादा परेशानी हो रही है। बरही अनुमंडलीय अस्पताल में कार्यरत बड़ा बाबू पंकज कुमार एवं युवा पत्रकार अजय कुमार कुशवाहा ने आर्थिक सहयोग किया। जिसे लेकर हजारीबाग जा रहा हूं। उक्त घटना की जानकारी युवा नेता रितेश गुप्ता ने बरही अनुमंडल पदाधिकारी को देते हुए उक्त दिव्यांग महिला को दिव्यांग प्रमाण पत्र बनवाने की बात कही है तांकि पीड़ित परिवार को लाभ मिल सकें।