पाकुड़। क्रिसमस के अवसर पर रानी ज्योतिर्मयी स्टेडियम में प्रशासन एवं मीडिया के बीच फ्रेंडली क्रिकेट मैच का आयोजन हुआ। जिसमें प्रशासन इलेवन ने मीडिया इलेवन को 67 रनों से हरा दिया। प्रशासन इलेवन के कप्तान उपायुक्त वरुण रंजन ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का निर्णय लिया। निर्धारित 15 ओवरों में 3 विकेट गंवाकर 161 रन बनाए।

प्रशासन इलेवन की ओर से जिला खाद्य सुरक्षा पदाधिकारी अमित कुमार ने 52 रनों की बेहतरीन पारी खेली। वहीं उपायुक्त वरुण रंजन ने 17, पुलिस अधीक्षक हृदिप पी जनार्दन ने 20 एवं अनुमंडल पदाधिकारी पंकज कुमार ने 20 रन, जिला खेल अधिकारी ने 18 रनों का महत्वपूर्ण योगदान दिया।

वहीं लक्ष्य का पीछा करने उतरी मीडिया इलेवन की टीम निर्धारित 15 ओवरों में 4 विकेट खोकर महज 94 रन ही बना सकी। इस तरह प्रशासन इलेवन ने यह मैच 67 रनों से जीत लिया। मीडिया इलेवन की ओर से अमित कुमार ने सर्वाधिक 25 रनो का योगदान दिया। *प्रशासन इलेवन की ओर से पुलिस अधीक्षक ह्रदिप पी जनार्दन ने किफायती गेंदबाजी करते हुए 3 ओवरों में 11 रन देकर 2 विकेट हासिल किया। मैन ऑफ द मैच एवं सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज का पुरस्कार प्रशासन इलेवन के फूड सेफ्टी ऑफिसर अमित कुमार, सर्वश्रेष्ठ गेंदबाज पुलिस अधीक्षक ह्रदिप पी जनार्दनन, सर्वश्रेष्ठ कैच अनुमंडल पदाधिकारी पंकज कुमार एवं सर्वश्रेष्ठ क्षेत्ररक्षक मीडिया इलेवन के कप्तान मुकेश जयसवाल को चुना गया। उपायुक्त वरुण रंजन एवं पुलिस अधीक्षक ह्र्दीप पी जनार्दनन ने उप-विजेता टीम मीडिया इलेवन को टॉफी देकर सम्मानित किया एवं मीडिया इलेवन ने विजेता टीम को ट्रॉफी देकर सम्मानित किया। अंपायर की भूमिका निभाने वाले प्रीतम सिंह एवं दानिश तथा कॉमेंटेटर प्रमोद नागालिया उर्फ लाला को भी सम्मानित किया गया।

मौके पर उपायुक्त वरुण रंजन ने कहा कि इस तरह के आयोजन से मित्रता बढ़ती है। दोनों और से व्यस्तता के बीच क्रिकेट मैच का आयोजन मानसिक रूप से मजबूत करने वाला है। भागदौड़ भरी जिंदगी में थोड़ा मनोरंजन और सुकून भी जरूरी है। प्रशासन और मीडिया के बीच क्रिकेट मैच सिर्फ मनोरंजन के है। इसमें किसी की हार या जीत नहीं है।

पुलिस अधीक्षक हृदिप पी जनार्दन ने कहा कि इस तरह के मनोरंजन का अवसर बहुत कम मिलता है। दोनों टीमों ने अच्छा प्रदर्शन किया है। मैं सभी को बधाई देता हूं। खेलकूद मनोरंजन के साथ स्वास्थ्य के लिहाज से भी अच्छा है।

मौके पर उप विकास आयुक्त अनमोल कुमार सिंह, सिविल सर्जन डॉक्टर रामदेव पासवान, जिला जनसंपर्क पदाधिकारी डॉ चंदन, जिला खनन पदाधिकारी प्रदीप कुमार साह आदि मौजूद थे।