आमजनों के शिकायतों एवं समस्याओं का किया जा रहा है ससमय निराकरण।

चाईबासा। आपके अधिकार आपकी सरकार आपके द्वार” कार्यक्रम के तहत सोमवार को सदर चाईबासा प्रखंड के बरकेला पंचायत,चक्रधरपुर प्रखंड के केनके पंचायत,मंझारी प्रखंड के बड़ातोरलो पंचायत,तांतनगर प्रखंड के अंगरडीहा पंचायत,आनंदपुर प्रखंड के रुंधीकोचा पंचायत,गोईलकेरा प्रखंड के बारा पंचायत,बंदगांव प्रखंड के लाण्डुपदा पंचायत में कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में विभिन्न विभागों के द्वारा जनता से आवेदन प्राप्त किए गए और परिसंपत्ति का भी वितरण किया गया।

आज आयोजित विभिन्न प्रखंडों के पंचायतों में ”आपके अधिकार आपकी सरकार आपके द्वार” कार्यक्रम मे कृषि विभाग के तहत 2701 आवेदन प्राप्त किए गए जिसमें से 1824 आवेदन का त्वरित निष्पादन किया गया, सेवा का गारंटी अधिनियम के तहत 1894 आवेदन प्राप्त हुए जिसमें से 1122 आवेदन का त्वरित निष्पादन किया गया, पेयजल विभाग के तहत 1636 आवेदन प्राप्त हुए जिसमें से 911 आवेदन का त्वरित निष्पादन किया गया, ई – श्रम पोर्टल पर 3586 श्रमिकों का निबंधन किया गया, स्वास्थ्य एवं पोषण के तहत 20731 आवेदन प्राप्त हुए जिसमें से 18453 आवेदन का त्वरित निष्पादन किया गया, आजीविका अधिनियम के तहत 12569 आवेदन प्राप्त किए गए जिसमें से 8379 आवेदन का त्वरित निष्पादन किया गया, झारखंड खाद्य सुरक्षा अधिनियम के तहत 65416 आवेदन प्राप्त किए गए जिसमें से 29888 आवेदन का त्वरित निष्पादन किया गया, पेंशन अधिनियम के तहत 18864 आवेदन प्राप्त हुए जिसमें से 11243 आवेदन का त्वरित निष्पादन किया गया, 15 वे वित्त आयोग के तहत 91 आवेदन प्राप्त किए गए जिसमें से 37 आवेदन का त्वरित निष्पादन किया गया,भूमि सुधार अधिनियम के तहत 370 आवेदन प्राप्त हुए जिसमें से 101 आवेदन का त्वरित निष्पादन किया गया, छात्रवृत्ति योजना के तहत 103 आवेदन प्राप्त हुए जिसमें से 51 आवेदन का त्वरित निष्पादन किया गया, शहरी स्थानीय निकाय के तहत 4776 आवेदन प्राप्त किए गए जिसमें से 4051 आवेदन का त्वरित निष्पादन किया गया,आवास योजना के तहत 39264 आवेदन प्राप्त हुए जिसमें से 28308 आवेदन का त्वरित निष्पादन किया गया अन्य विभागों के तहत कुल 18526 आवेदन प्राप्त हुए जिसमें से 12387 आवेदन का त्वरित निष्पादन किया गया।

“आपके अधिकार आपकी सरकार आपके द्वार” कार्यक्रम का उद्देश्य जिले के ग्रामीण एवं सुदूरवर्ती क्षेत्रों में निवास करने वाले ग्रामीणों को सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं की जानकारी देना एवं उन्हें इससे लाभान्वित करना मुख्य उद्देश्य है।साथ ही उनकी शिकायतों एवं समस्याओं का त्वरित निष्पादन करना है।