जिले के सभी पंचायतों से हुनर योजना के तहत एक एक महिला उद्यमियों को सिलाई मशीन वितरण किया गया

पाकुड़। रविन्द्र भवन में उक्त कार्यक्रम का शुभारंभ माननीय मंत्री श्री आलमगीर आलम, उपायुक्त, डीडीसी, आईटीडीए निर्देशक, एसडीओ, कांग्रेस जिला अध्यक्ष के द्वारा संयुक्त रूप से दीप प्रज्ज्वलित कर क़िया गया

इस कार्यक्रम में माननीय मंत्री ग्रामीण विकास विभाग श्री आलमगीर आलम ने कहा कि महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने के लिए यह पहल राज्य सरकार की है। जिले के 128 पंचायतों के एक एक समूह के दीदियों को सिलाई मशीन दिया गया। सखी मंडल के दीदियों सिलाई कर आजीविका को बढ़ाएंगे। बहुत सारी योजनाएं दीदियों के लिए चलाई जा रही है। सिर्फ सिलाई मशीन से ही रोजगार देना हमारा मकसद नही, बल्कि इसमे कई चीजों को कई चीज जोड़ना चाहते है। महिलाओं को योजनाओं से जोड़कर स्वावलंबी की दिशा में ले जाना चाहते है। साथ ही साथ सखी मंडल के दीदियों को पलाश, चास हाट की तरह कई अन्य योजनाओं से स्वावलंबी बनाने की दिशा में काम कर रहे है। हम निरंतर काम कर रहे है ताकि हमारे गाँव की माताएं, बहन, बेटी, दीदियों को सुखी बनाने की हमारे हेमंत सरकार हर प्रयास कर रहे है, ताकि आनेवाले समय में महिलाएं सभी योजनाओं का लाभ ले सके।
रविन्द्र भवन में आयोजित कार्यक्रम में उपायुक्त ने जिलेवासियों को संबोधित किया, उन्होंने कहा कि राज्य सरकार एवं जिला प्रशासन का उद्देश्य यही है कि गांव गांव तक विकास योजनाओं को पहुंचाया जाए एवं हरेक व्यक्ति को विकास योजनाओं से जोड़ा जाए

रविन्द्र भवन में आयोजित कार्यक्रम में उपायुक्त श्री वरुण रंजन ने जिलेवासियों को संबोधित करते हुए कहा कि आमजनों को सरकार द्वारा संचालित विभिन्न योजनाओं से जोड़कर लाभान्वित करना राज्य सरकार एवं जिला प्रशासन की प्राथमिकताओं में से एक है। सरकार का हमेशा ये उदेश रहा है कि दीदियों को कैसे योजनाओं से जोड़े, दीदियों की आजीविका को कैसे बढ़ाया जाए।
प्रथम चरण में माननीय मंत्री जी के द्वारा 15 दीदियों को सिलाई मशीन दी गई थी। हुनर परियोजना के तहत जिले के बचे हुए 113 पंचायतों में एक एक समूह दीदियों को सिलाई मशीन दिया गया। इस सिलाई मशीन के मदद से वे सिलाई दुकान खोलकर स्वरोजगार करेंगे। किस तरह से महिला को घर में रहते हुए रोजगार से जोड़ा जा सके। साथ ही साथ अपने परिवार के लिए कुछ आमदनी कर सके। वह कैसे आगे बढ़े, वह कैसे स्वावलंबी बने। प्रथम चरण में 15 महिलाओं को सिलाई मशीन दिया गया था। आज वह महिलाएं 1 महीने में 6000 से 10000 के बीच कमाई कर रही है। आज 113 महिलाओं को जो सिलाई मशीन दी गई है सभी महिलाओं को एक प्रशिक्षण भी दिया जाएगा ताकि इस योजना से जुड़कर अपने अमदनी को कैसे बढ़ा सकें।

वहीं मंच का संचालन पाकुड़ बीपीएम मोहम्मद फैज आलम ने किया।

मौके पर उप विकास आयुक्त श्री अनमोल कुमार सिंह, आईटीडीए निदेशक मो० शाहिद अख्तर, अनुमंडल पदाधिकारी श्री पंकज कुमार, कांग्रेस जिला अध्यक्ष श्री उदय लखमानी, कांग्रेस प्रवक्ता मो० मुख्तार हुसैन, कांग्रेस प्रखंड अध्यक्ष मो० मंसारूल हक, जेएसएलपीएस डीपीएम प्रवीण मिश्रा समेत अन्य संबंधित अधिकारी/कर्मी एवं जिले सुदूरवर्ती क्षेत्रों से आए हुए महिलाएँ उपस्थित थे।