चाईबासा। झारखंड राज्य सरकार स्थापना के दूसरे वर्षगांठ अवसर पर बुधवार को पश्चिमी सिंहभूम जिला मुख्यालय शहर चाईबासा स्थित टाटा कॉलेज के बहुउद्देशीय सभागार में राज्य के कृषि, पशुपालन एवं सहकारिता विभाग-सह-जिला प्रभारी मंत्री बादल पत्रलेख के अध्यक्षता में आयोजित हुआ। वही सिंहभूम सांसद गीता कोड़ा, सिंहभूम(कोल्हान) प्रमंडलीय आयुक्त मनोज कुमार, चाईबासा विधायक दीपक बिरुवा, मझगांव विधायक निरल पुरती, जिला उपायुक्त अनन्य मित्तल, पुलिस अधीक्षक अजय लिंडा, उप विकास आयुक्त संदीप बक्शी सहित वरीय पदाधिकारियों, जनप्रतिनिधियों, सामाजिक कार्यकर्ता एवं लाभुकों की उपस्थिति में जिला स्तरीय “आपके अधिकार-आपकी सरकार आपके द्वार” कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्य अतिथि, विशिष्ट अतिथि को पौधा देकर तत्पश्चात संयुक्त रूप से दीप प्रज्वलित कर किया गया। इस दौरान ₹7,13,17,17,000/- की लागत से कुल 135 योजनाओं का शिलान्यास, ₹63,37,73,300/- की लागत से कुल 33 योजनाओं का उद्घाटन तथा 3295 लाभुकों के बीच ₹11,78,02,041 की परिसंपत्तियों का वितरण किया गया।

कार्यक्रम के दौरान अपने संबोधन में मंत्री श्री बादल ने कहा कि आज राज्य सरकार गठन के दूसरे वर्षगांठ अवसर पर जिला स्तरीय कार्यक्रम में लाभुकों को उनके हक का लाभ देने का अवसर मिला है। उन्होंने कहा कि इस अवसर पर सरकार कोई उत्सव का आयोजन नहीं कर रही है अपितु अपना रिपोर्ट कार्ड प्रस्तुत कर रही है कि सरकार ने आप सबों के लिए क्या किया। उन्होंने कहा कि राज्य के सभी नागरिकों का सर्वांगीण विकास सुनिश्चित हो इसके लिए बहुत बड़ी जिम्मेवारी का निर्वहन किया जा रहा है एवं इसके लिए राज्य स्थापना दिवस 15 नवंबर से प्रारंभ #आपकेअधिकार_आपकेद्वार कार्यक्रम के तहत राज्य के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के नेतृत्व में सभी मंत्रीगण, अधिकारीगण के द्वारा पंचायतों में पहुंचकर राज्य की जनता को लाभान्वित एवं जागरूक करने का सराहनीय कार्य किया गया है। उन्होंने कहा कि 50 दिनों तक संचालित कार्यक्रम के दौरान पश्चिमी सिंहभूम जिले में कुल 2,14,833 आवेदन विभिन्न प्रखंडों में संचालित कार्यक्रम के दौरान प्राप्त हुआ जिसमें 1,25,309 आवेदन का निष्पादन कर दिया गया है तथा शेष बचे आवेदनों के निष्पादन हेतु सरकार एवं प्रशासन सतत प्रयासरत है।मंत्री श्री बादल ने कहा कि समाज के अंतिम व्यक्ति को योजना का लाभ मिले तथा समाज के प्रत्येक व्यक्ति का समग्र विकास हो का जो सपना भगवान बिरसा ने देखा था, शहीद पोटो हो, नारा हो, पुंडवा हो, सिद्धू-कान्हो, गंगाराम जी ने देखा था उसे पूरा करने के लिए झारखंड देश का पहला राज्य बना, जहां सर्वजन के लिए पेंशन योजना का शुभारंभ किया गया। उन्होंने कहा कि कोरोनावायरस संक्रमण जैसी महामारी हम सभी ने अपने जीवन काल में कभी नहीं देखा था और आप सभी के सहयोग से हम लोग उस दौड़ से गुजरे हैं लेकिन यह महामारी अभी गई नहीं है। ऐसे में आप सभी से आग्रह है कि संक्रमण से बचाव के लिए सरकार द्वारा जारी गाइडलाइन का पालन करें।