टेस्टिंग ट्रेसिंग आइसोलेशन एवं ट्रीटमेंट की गतिविधियों को पुनः करें शुरू उपायुक्त- राम निवास यादव।

साहिबगंज। उपायुक्त राम निवास यादव की अध्यक्षता में गुरुवार को समाहरणालय स्थित सभागार में स्वास्थ्य विभाग की जिला स्तरीय टास्क फोर्स की बैठक आयोजित की गई।बैठक के दौरान उपायुक्त रामनिवास यादव ने सभी चिकित्सकों प्रखंड विकास पदाधिकारियों, अंचलाधिकारियों प्रखंड चिकित्सा प्रसार पदाधिकारियों एवं स्वास्थ्य कर्मियों को धन्यवाद देते हुए कहा कि सभी ने मिलकर जिले में टीकाकरण अभियान को सफल बनाने के लिए कड़ी मेहनत की है जिससे हम कोविड वैक्सिनेशन प्रथम डोज़ में 78% से अधिक डोज़ लगाने में कामयाब रहे हैं, वही दूसरे डोज़ में हमने लगभग 50% की प्रगति हासिल की है जिसे हमें और बढ़ाने की आवश्यकता है।उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य कर्मियों एवं पदाधिकारियों के सहयोग से ही जिला संक्रमण के प्रभाव से निकल पाया है परंतु पूरे देश में कोविड-19 संक्रमण की तीसरी लहर दस्तक दे रही है जिसमें सभी को एक बार फिर मिलकर जिले वासियों को संक्रमण से बचाना है इसके लिए हमें रणनीति गत ढंग से कार्य करना होगा एवं दूसरी लहर के दौरान किए गए कार्यों को पुनः दोहराना होगा
कोविड-19 क्रमण के तीसरे लहर के प्रसार को से जिले वासियों की रोकथाम हेतु बैठक के दौरान उपायुक्त ने कुछ एवं दिशा निर्देश दिए जिसमें उन्होंने सभी पदाधिकारियों को टेस्टिंग ट्रेसिंग आइसोलेशन एवं ट्रीटमेंट की प्रक्रिया को कार्य करना सुनिश्चित करने का निर्देश दिया उन्होंने दूसरे दोस्त के लिए टूटे हुए लोगों को वैक्सीनेशन कराने हेतु सर्वे कराने का भी निर्देश दिया इस दौरान उपायुक्त ने सभी अंचल अधिकारियों को टेस्टिंग की गति को एक बार फिर से और बढ़ाने का निर्देश दिया जिसमें उन्होंने कहा कि 1000 प्रतिदिन आरटी पीसीआर टेस्ट के लक्ष्य को कराना सुनिश्चित करें तथा सभी अंचलाधिकारी यह भी ध्यान रखें कि सैंपल कलेक्शन के बाद सैंपल को सही ढंग से लैब में पहुंचाया जा रहा है।उन्होंने संबंधित पदाधिकारियों को सभी चेक नाका ऊपर टेस्टिंग की गति को और बढ़ाने जिसमें खासतौर से रेलवे स्टेशन बस स्टैंड हाट बाजार भीड़भाड़ वाले इलाके राज्य स्तरीय एवं जिला स्तरीय चेक नाका एवं फेरी घाट पर निगरानी रखते हुए वहां टेस्टिंग कराने एवं लोगों का वृक्ष नियत करना सुनिश्चित कराने हेतु निर्देशित किया।इस बीच उन्होंने उधवा राजमहल एवं मंडल प्रखंड को 7 दिनों में कोविड वैक्सिनेशन का 50% लक्ष्य हासिल करने का निर्देश दिया।

आज तथा 01 जनवरी को चलेगा विशेष मास्क चेकिंग अभियान

बैठक के दौरान उपायुक्त रामनिवास यादव ने नव वर्ष को देखते हुए ज्यादा सतर्क सतर्कता बरतने को कहा उन्होंने कहा कि नए साल के अवसर पर लोग पिकनिक मनाने एवं छुट्टियां मनाने बड़ी संख्या में एकत्रित होते हैं जहां हमें विशेष सावधानी बरतने की आवश्यकता है
उन्होंने तीसरी लहर को देखते हुए पुलिस प्रशासन को निर्देश दिया है कि 31 दिसंबर एवं एक जनवरी को विशेष मास्क चेकिंग अभियान चलाएं जिसमें मास्क ना पहनने पर लोगों से जुर्माना वसूले।
बैठक के दौरान उपायुक्त ने कहा कि संक्रमण की दस्तक के बाद गतिविधियां बढ़ाने की आवश्यकता है जिसमें लोगों से सोशल डिस्टेंसिंग का अनुपालन, मास्क का उपयोग करने तथा सार्वजनिक जगहों पर थूकने तथा कोविड व्यवहारों का पालन न करने पर जुर्माना लगाया जाएगा
इस क्रम में उपायुक्त ने आम जनता से अपील की है कि वह नए वर्ष की छुट्टी अपने घरों में ही मनाएं तथा अगर वह बाहर जाते हैं तो कोविड व्यवहारों का अवश्य पालन करें ताकि वह उनका परिवार एवं पूरा समाज संक्रमण की चपेट से बच सके।बैठक के दौरान बताया गया कि कोविड-19 की तीसरी लहर को देखते हुए अब दूसरा डोज पूर्ण कर चुके लोगों को दूसरे दोस्त से 9 महीने की अवधि के उपरांत बूस्टर डोज या प्रिकॉशन डोज भी लगाया जाएगा बताया गया कि बूस्टर डोज लगाने की प्रक्रिया 10 जनवरी 2022 से शुरू होगी।
जबकि भारत सरकार के गाइडलाइन के मुताबिक अब 15 से 18 वर्ष के आयु के लोगों को भी व्यक्ति वैक्सीन लगाने का निर्देश दे दिया गया है जिसमें 15 16 17 एवं अट्ठारह वर्ष के आयु के सभी लोगों का 03 जनवरी 2022 से वैक्सीनेशन किया जाएगा।
इस क्रम में बताया गया कि ज़िले में 15 से 18 वर्ष में लगभग 83000 लोगों को टीका लगाया जाएगा।बैठक के दौरान टीबी जागरूकता के लिए चलाए जा रहे अभियानों से संबंधित जानकारी ली गई जहां बताया गया कि 3 से 9 जनवरी के बीच टीवी जागरूकता अभियान चलाया जाएगा इसके अलावा बैठक में कालाजार पर चर्चा की गई एवं आवश्यक निर्देश दिए गए।बैठक के क्रम में प्रखंड स्तर पर कोविड महा टीकाकारण अभियान को सफल बनाने के लिए उत्कृष्ट कार्य करने पर जिला योजना पदाधिकारी एवं अन्य अधिनस्थ पदाधिकारियों को उपायुक्त रामनिवास यादव द्वारा प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया।बैठक के दौरान उपायुक्त के अलावा उप विकास आयुक्त प्रभात कुमार बरदियार,सिविल सर्जन डॉ अरविंद कुमार,सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी गण, अंचलाधिकारी गण, सभी प्रखंड चिकित्सा प्रसार पदाधिकारी गण, स्वास्थ्य विभाग के कर्मी एवं अन्य उपस्थित थे।