सिमडेगा | आज भाजपा नेता श्रद्धानंद बेसरा जी मरीजों से मिलने सदर अस्पताल सिमडेगा पहुंचे तो उन्हें बहुत सी व्यवस्था में कमी को देखने और सुनने को मिलीं । मिलने के क्रम में मरीजों के द्वारा उन्हें बताया गया की वार्ड बॉय की अनुपस्थिति के कारण अटेंडर व्यक्ति ही मरीज को व्हीलचेयर से ड्रेसिंग रूम तक लेकर जाते हैं, एवं ड्रेसिंग करवाने के बाद फिर से लेकर आते है। बेसरा जी के द्वारा पता करने पर बताया गया की एक एनजीओ के मार्फत 40 50 सेवा कर्मीयों के द्वारा सदर अस्पताल में सेवा प्रदान की जा रही थी, जिन्हें कुछ दिन पूर्व बिना विधि व्यवस्था को दुरुस्त किए हुए उन सभी सेवा कर्मियों को सेवा से हटा दिया गया। फोन के मार्फत इस संबंध में श्री बेसरा जी ने अधिकारियों से भी बात करने की कोशिश किए, परन्तु शायद रविवार के कारण फोन रिसीव नहीं किया गया, जबकि 24×7 सेवा बहाल का बोर्ड लगा है । श्री बेसरा जी ने स्वयं मिलने गए मरीज को व्हीलचेयर से लेकर अस्पताल के ड्रेसिंग रूम तक लेकर गए एवं सेवा प्रदान किए । कुछ मरीजों ने ठीक ढंग से ड्रेसिंग नहीं करने की भी शिकायत सुनाऐ, साथ ही साथ लोगों ने अल्ट्रासाउंड और एक्स-रे की भी व्यवस्था नहीं होने की बात बताए। नववर्ष मनाने के क्रम दुर्घटना हुए लोगों की संख्या बहुत ज्यादा थी , लेकिन अस्पताल में व्यवस्था और सेवा कर्मियों की कमी कारण उन्हें रेफर कर दिया गया , तथा कुछ एक गंभीर घायलों इलाज के दौरान मृत्यु भी हो गई। अगर जिला मुख्यालय अस्पताल में इस तरह की स्थिति है तो निशंदेह जिला वासियों के लिए बड़ा चिंता का विषय है,और सहज ही समझा जा सकता है कि बाकी प्रखण्डों की क्या स्थिति हो सकती है।