हजारीबाग। सदर विधायक मनीष जायसवाल ने स्थानीय झंडा चौक के समीप अवस्थित सदर विधायक कार्यालय सभागार परिसर में एक प्रेस- कॉन्फ्रेंस का आयोजन कर विधायक मनीष जायसवाल की तबीयत अचानक खराब होने के कारण उनके अनुपस्थिति में उनके प्रतिनिधियों और भाजपा संगठन के नेताओं द्वारा विधायक मनीष जायसवाल के द्वितीय कार्यकाल के दूसरे वर्ष के पूरे होने पर वर्ष 2020 की तरह 2021 को भी सेवा वर्ष के रूप में मनाते हुए द्वितीय वर्ष की उपलब्धियों और कार्यों से संबंधित पुस्तिका “सेवा वर्ष- 2021” का सामूहिक रूप से लोकार्पण किया गया। इस पुस्तिका में विधायक मनीष जायसवाल द्वारा वर्ष 2021 में किए गए अपने सेवा कार्यों की विस्तृत जानकारी दी है जिसमें विशेष रूप से कोरोना के द्वितीय लहर के दौरान किए गए सेवा कार्य, हजारीबाग में सिलसिलेवार हुए केरोसिन ब्लास्ट कांड के दौरान सेवा कार्य, धर्मांतरण के ख़िलाफ़ किए गए प्रहार, सदन पटल पर की गई गतिविधियां, पार्टी द्वारा आयोजित किए गए कार्यक्रमों में बढ़-चढ़कर भागीदारी सुनिश्चित करने के अलावे आपदा काल को अवसर में बदलने वालों पर उनके द्वारा किए गए जनसेवा सहयोग और समर्पण की भावना से पहुंचाए गए गहरे चोट की पूरी कहानी बताई गई है। प्रेस – वार्ता का विषय प्रवेश विधायक मीडिया प्रतिनिधि रंजन चौधरी ने किया तत्पश्चात विधायक मनीष जायसवाल के सेवा और विकास कार्यों की विस्तार से व्याख्या पूर्व जीप अध्यक्ष ब्रजकिशोर जायसवाल, भाजपा जिला अध्यक्ष अशोक यादव और सदर विधानसभा क्षेत्र के विधायक प्रतिनिधि दिनेश सिंह राठौर ने किया। मंच संचालन और धन्यवाद ज्ञापन नगर विधायक प्रतिनिधि आशीष सोनी ने किया ।
सदर विधायक मनीष जायसवाल हैं जो कोरोना के पहले और दूसरे लहर के दौरान इस चुनौतीपूर्ण समय में भी अपने उत्कृष्ट सेवा कार्य से दृढ़संकल्प शक्ति के साथ क्षेत्र के जरूरतमंद कोरोना संक्रमित मरीज, गरीब, भूखे और मजबूरियों से संघर्ष कर रहे लोगों के लिए रहनुमा बनकर उनका मदद कर रहे हैं। गांव- कस्बा से लेकर शहर तक अपने बड़े नेटवर्क के माध्यम से आपदा को अवसर बनाने वालों पर सदर विधायक मनीष जायसवाल ना सिर्फ़ गहरा चोट का प्रहार कर रहे हैं बल्कि जरूरतमंदों को हर संभव मदद पहुंचा कर उनके लिए मसीहा बनकर उभर रहे हैं। कोरोना की शुरुआती दौर में खुद धरातल पर उतरकर अपने पूरे परिवार संग मिलकर सेवा की अनूठी मिसाल पेश करने के बाद कोरोना की दूसरी भयावह लहर के बीच बिना रुके, बिना थके, बिना सोए, बिना ससमय खाएं- पिए बस जनसेवा में पूरी सिद्दत से जुटे हुए हैं। कार्यालय कर्मियों के कोरोना संक्रमित होने के बाद विधायक जायसवाल खुद अपने पुत्र करण जायसवाल के साथ मिलकर सेवा कार्यों की पूरी कमान संभाल रहे हैं। सदर विधायक मनीष जायसवाल द्वारा 6 दर्जन से अधिक ऑक्सीजन जम्बो सिलेण्डर, सैकड़ों ऑक्सीजन फ्लो मीटर, सैकड़ों ऑक्सीमीटर, कोरोना संक्रमित मरीजों के लिए मुफ्त में ऑक्सीजन युक्त एंबुलेंस सेवा, लाखों मास्क का वितरण और जनजागरुकता अभियान, 1500 कोविड मेडिसिन किट का निर्माण सह वितरण, अपने फेसबुक पेज के माध्यम से कोरोना संबंधी सवालों के सटीक जवाब के लिए विशेषज्ञ चिकित्सकों द्वारा लाइव कार्यक्रम का आयोजन करवाना, प्लाज़्मा डाटा बैंक का निर्माण, 50 हज़ार कच्चा राशन फूड पैकेट्स का निर्माण, दवा दुकानों से जरूरतमंदों को दवाई सुनिश्चित कराना, सरकारी और निजी अस्पतालों में संक्रमित मरीजों के लिए बेड, चिकित्सीय सुविधा उपलब्ध कराने में विधायक जायसवाल खुद जिस प्रकार मशक्कत करते हैं वह स्पष्ट करता है कि जनता ही इनके लिए जनार्दन हैं। जनता की सुख- सुविधा और जरूरतों को पूरा करने के लिए जिस प्रकार सदर विधायक मनीष जायसवाल हर चुनौतियों से जूझते हैं, लड़ते हैं और चुनौतियों को सेवा के अवसर में बदलते रहे हैं, उससे जनप्रतिनिधि के प्रति जनता का प्रेम ना सिर्फ़ प्रगाढ़ हुआ है बल्कि लोगों के जेहन में सदर विधायक मनीष जायसवाल साल 2021 के अद्भुत सेवा कार्यों के कारण ऑक्सीजन मैन, संकटमोचन और हजारीबाग के मसीहा बनकर उभरे।