साहिबगंज। राष्ट्रीय युवा दिवस के अवसर पर साहिबगंज महाविद्यालय के प्रभारी प्राचार्य डॉ. राहुल कुमार संतोष की अध्यक्षता में ऑनलाइन वेबीनार का आयोजन किया गया। इस अवसर पर विद्यालय के एनएसएस नोडल अधिकारी डॉ. रणजीत कुमार सिंह ने अपनी बातों को रखते हुए युवाओं तक यह संदेश पहुंचाया की हमें स्वामी विवेकानंद जी के बताए गए मार्ग पर चलना होगा, तभी हम अपने जीवन के बड़े से बड़े लक्ष्य को प्राप्त कर सकते हैं। उन्होंने कहा था कि जागो और तब तक मत रुको, जब तक की लक्ष्य प्राप्त नहीं हो जाए। मुख्यवक्ता सह अर्थशास्त्र विभाग के अध्यक्ष डॉ.संजीव कुमार सिंह ने बताया कि सन 1893 ईस्वी में स्वामी विवेकानंद जी को शिकागो में विश्व धर्म सम्मेलन में बुलाया गया था, तो उन्होंने अपनी ओजस्वी भाषण से विश्व के सभी देशों को अपनी ओर आकर्षित कर लिया एवं दुनिया में भारत को फिर से विश्व गुरु बना कर खड़ा कर दिया। उन्होने कहा की सनातन धर्म, संस्कृति, सभ्यता, भारतीय परम्परा को आज की युवा पीढ़ी अक्षुण्ण बनाए रखें। स्वामी विवेकानंद के भाषण से न केवल भारत, बल्कि विश्व के सभी देशों के युवा वर्ग बहुत प्रभावित हुए हैं, इसलिए प्रत्येक वर्ष स्वामी विवेकानंद जी के जन्मदिवस पर 12 जनवरी को राष्ट्रीय युवा दिवस के रूप में मनाया जाता है।
वहीं मौके पर उपस्थित सक्रिय एनएसएस स्वयंसेवक खुशीलाल पंडित ने स्वामी विवेकानंद के विचारों की प्रसंगिकता के ऊपर स्वरचित कविता पाठ किया एवं अपनी कविता के माध्यम से उन्होंने विवेकानंद जी के विचारों को सभी तक पहुंचाया। जबकि स्वयंसेवक कुंदन कुमार ने कहा कि भारत को युवाओं का देश कहा जाता है, इसलिए देश को आगे ले जाने के लिए एवं एक अखंड राष्ट्र के निर्माण के लिए देश के सभी युवाओं का साथ बहुत आवश्यक है। वहीं एनएसएस की स्वयंसेवक नीतू कुमारी, काजल कुमारी ने कहा की युवा पीढ़ी को संस्कारवान, अनुशासित, सकारात्मक सोच व चरित्रवान होना चाहिए।
उपस्थित दर्जनों एनएसएस वॉलंटियर छात्र – छात्राओं में साक्षी कुमारी, अतुल कुमार, राहुल कुमार, मनीष कुमार, आदि ने भी अपनी बातों को रखा एवं स्वामी विवेकानंद जी के विचारों को लोगों तक पहुंचाने का प्रयास किया एवं लोगों से अपील की कि विवेकानंद जी के बताए गए मार्ग पर चलकर अपने – अपने लक्ष्य को प्राप्त करें। डॉ रणजीत कुमार सिंह ने धन्यवाद ज्ञापन करते हुए कार्यक्रम को समाप्त किया।
इस अवसर पर महाविद्यालय के प्रभारी प्राचार्य डॉ. राहुल कुमार संतोष, एनएसएस नोडल अधिकारी डॉ रणजीत कुमार सिंह, एनएसएस स्वयंसेवक के रूप में खुशीलाल पंडित, काजल कुमारी, साहिल इरफान, नीतू कुमारी, अतुल कुमार, कुंदन कुमार, साक्षी कुमारी, मनीष कुमार, राहुल तांती आदि दर्जनों स्वयंसेवक मौजूद थे।