गलत ढंग से नामांकन रद्द करने वाले दोषियों के विरूद्ध कार्रवाई: मनिता नगेशिया

लोहरदगा। लोहरदगा जिले के पाखर किस्को से मुखिया पद के प्रत्याशी का गलत ढंग से रिश्वत नहीं देने के कारण रद्द करने की जाँच कर दोषियों के विरूद्ध कार्रवाई करने के संबंध में मनीता नगेशिया पति शनिचरवा किसान ने शुक्रवार को उपायुक्त सह जिला निर्वाचन पदाधिकारी, लोहरदगा एवं पुलिस कप्तान लोहरदगा को को लिखित आवेदन दिया है। उन्होंने अपने आवेदन में निवेदन किया है कि मैं दिनांक 21.04.2022 को पाखर पंचायत से मुखिया पद के लिए नामांकन की थी। मुझे निर्वाची पदाधिकारी सह अंचल पदाधिकारी ने दिनांक 21.04.2022 को सभी कागजात सही पाये गये और मुझे चेक लिस्ट भी निर्गत किया गया। लेकिन दिनांक 25.04.2022 को स्कूटनी के दिन अचानक नामांकन रद्द कर दिया गया। अगर मेरा नामांकन में कोई भी ॠटि था, तो चेक लिस्ट में दर्ज कर जमा करने की तिथि देना चाहिए था। परन्तु सुधार के लिए अंचल पदाधिकारी के करीबी दलाल दावर अंसारी ने मेरे पति से 2 से 3 लाख रूपैया की मांग किया एवं कम्प्यूटर ऑपरेटर इम्तियाज से मिलने को कहा गया। मेरे द्वारा रिश्वत नहीं देने के कारण मेरा नामांकन रद्द कर दिया गया और मेरे विपक्षी जेएमएम नेता की पत्नि फुलमनी उरॉव का सहयोग किया गया। मैने आपको दिनांक 26.04.2022 एवं 27.04.2022 एवं वरीय निर्वाचन पदाधिकारी सह अपर समाहर्त्ता को दिनांक 27.04.2022 एवं उप निर्वाचन पदाधिकारी लोहरदगा मुख्य राज्य निर्वाचन आयुक्त झारखण्ड को भी आवेदन देकर रिश्वत मांगने का ऑडियो भी दिया गया। परन्तु एक सप्ताह होने के बाद भी अब तक कोई कार्रवाई नहीं किया गया है। मैं सात साल से मुखिया थी इसके पूर्व मेरे पति मुखिया थे। इस वर्ष भी 99% मेरा जीत पक्का था परन्तु अंचल पदाधिकारी किस्को उनके करीबी दलाल दावर अंसारी एवं कम्प्यूटर ऑपरेटर तीनों को रिश्वत नहीं देने के कारण मुझे मुखिया पद से चुनाव लड़ने से वंचित कर दिया गया। और जेएमएम नेता रंथु उराँव से तीन लोगों ने राशि लेकर बदले की भावना से मेरा नामांकन रद्द कर दिया गया। चुनाव आयोग का स्पष्ट आदेश निर्गत किया गया है कि किसी का भी नामांकन रद्द नहीं किया जाए, अगर कोई गलती होता है तो सुधार का मौका दिया जाय। उन्होंने कहा है कि अगर मेरा नामांकन गलत था, तो चेक लिस्ट में दर्ज कर सुधार का मौका क्यों नहीं दिया गया है। दिनांक 25.04.2022 एवं 26.04.2022 को सीसी टीवी कैमरा एवं अंचल पदाधिकारी किस्को, दावर अंसारी, इम्तियाज अंसारी का मोबाईल नंबर डिटेल निकालने से पर्दाफाश हो जायेगा। उन्होंने अनुरोध किया है कि इसका उच्च स्तरीय जांच कर दोषी के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज करते हुए कार्रवाई किया जाय एवं 14 मई के होने वाले चुनाव लड़ने की आदेश निर्गत किया जाय या पाखर पंचायत का मुखिया पद का चुनाव रद्द करने की कृपा की जाय। मनिता नगेशिया ने आवश्यक कार्रवाई हेतु आवेदन की प्रतिलिपि 1. पुलिस अधीक्षक लोहरदगा। 2. राज्य निर्वाचन आयुक्त झारखण्ड राँची। 3. महामहिम राज्यपाल राजभवन झारखण्ड राँची को भी दिया है।

Share this...
Share on Facebook
Facebook
Tweet about this on Twitter
Twitter

Leave a Comment

Your email address will not be published.