फंड का अभाव , नहीं हो पा रही कई प्रोडक्शन हाउस की फिल्में रिलीज

गिरिडीह। वर्ष 2012 से 2020 तक गिरिडीह के स्थानीय फिल्म प्रोडक्शन ने हिंदी एवं खोरठा भाषा में फिल्मों का निर्माण किया. फिल्म बनकर तैयार होने के बाद सिर्फ एक-दो फिल्में ही रिलीज हो सकी. बाकी फिल्में रिलीज होने का इंतजार कर रही है. इन फिल्मों में सबसे चर्चित फिल्म है- चिलखारी एक दर्द. आदित्य राज एंड जोहार झारखंड फिल्म प्रोडक्शन ने वर्ष 2015 में इस फ़िल्म का निर्माण किया था. फ़िल्म में बॉलीवुड अभिनेता अली खान ने खलनायक की भूमिका निभाई है. फिल्म के गीत मशहूर गायक उदित नारायण ने गाए हैं. फिल्म की कहानी गिरिडीह के चिलखारी में घटित माओवादी घटना पर आधारित है. वर्ष 2019 में फिल्म की डबिंग हुई. दो साल तक कोरोना के कारण फिल्म रिलीज नहीं हो पाई. कोरोना के बाद भी फिल्म रिलीज नहीं हो पाई है.

फंड की कमी से नहीं हुई रिलीज

फ़िल्म चिलखारी एक दर्द के निर्देशक संजय भारती का कहना है कि फ़िल्म के निर्माण में बजट से ज्यादा रुपये खर्च हो गए. फंड की कमी के कारण फिल्म रिलीज नहीं हो पाई है. रिलीज करने की कोशिश जारी है. इस फिल्म के निर्माता ब्रजमोहन का कहना है कि फंड की व्यवस्था की जा रही है. इस वर्ष दुर्गा पूजा में फिल्म रिलीज हो जाएगी.

आदित्य राज एंड जोहार झारखंड फिल्म प्रोडक्शन ने ही खोरठा भाषा में साजन के बाहों में फिल्म का निर्माण किया था. खोरठा भाषा में बनी यह फिल्म थी. सिनेम हॉलों में यह फिल्म हिट रही थी. इसी प्रोडक्शन ने वर्ष 2016 में पगला दीवाना नामक एक और फिल्म का निर्माण किया. यह फ़िल्म भी रिलीज होने का इंतजार कर रही है.

उपरोक्त फिल्मों के अलावा फिल्म सपने साजन के भी बनकर तैयार है. इस फिल्म के निर्माता स्वर्गीय प्रेम पासवान थे. फिल्म फेंडशिप भी बनकर तैयार है. इस फिल्म के निर्माता  कुमोद राज हैं. हाई रे पोता नामक फिल्म भी बनकर तैयार है. इसके निर्माता सुरेश कुमार हैं. ये तीनों फिल्में भी फंड के अभाव में रिलीज नहीं हो रही है. इन फिल्मों में काम करने वाले कलाकारों को अब तक पारिश्रमिक भी नहीं मिला है.

Share this...
Share on Facebook
Facebook
Tweet about this on Twitter
Twitter

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *