जिला चाइल्ड लाइन में मना वर्ल्ड एन्टी ह्यूमन ट्राफिकिंग डे

सरायकेला। सरायकेला-खरसावां जिला चाइल्ड लाइन द्वारा सरायकेला प्रखण्ड अंतर्गत उत्क्रमित उच्च विद्यालय दुगनी में मानव तस्करी निरोध दिवस मनाया गया. कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में जिला बाल संरक्षण पदाधिकारी संतोष ठाकुर तथा विशिष्ट अतिथि के रूप में बालमित्र पुलिस पदाधिकारी मो. खुर्शीद अली उपस्थित थे. मुख्य अतिथि ने अपने संबोधन में कहा कि विश्व भर में बड़े पैमाने पर मानव तस्करी का जाल फैला हुआ है. इसके द्वारा मासूम जिंदगियों के साथ अमानवीय व्यवहार किया जाता है. सभी उम्र और सभी पृष्ठभूमि के बच्चे इस अपराध के शिकार हो रहे हैं. इसको रोकने के लिए अलग-अलग कार्यक्रम के माध्यम से अधिक से अधिक लोगों को जागरूक करने की आवश्यकता है.

मुश्किल हालात में बच्चों की सहायता के लिए 1098 पर करें कॉल

विशिष्ट अतिथि बालमित्र पुलिस पदाधिकारी मो. खुर्शीद अली ने बताया कि 30 जुलाई को संपूर्ण विश्व में मानव तस्करी निरोध दिवस मनाया जाता है. इसका मुख्य उद्देश्य मानव तस्करी के शिकार लोगों की स्थिति के बारे में जानकारी देते हुए जागरूकता बढ़ाना तथा इसके शिकार लोगों को संरक्षण देना. विश्व मानव तस्करी निरोध दिवस पर इस वर्ष की थीम प्रौद्योगिकी का उपयोग एवं दुरुपयोग है. उन्होंने मानव तस्करी में लगने वाले धाराओं और सजा के बारे में भी विस्तार पूर्वक जानकारी दी. चाइल्ड लाइन सरायकेला-खरसावां द्वारा बच्चों को जानकारी दी गई कि यदि उनके आसपास में कोई ऐसा प्रलोभन देकर बच्चों को कार्य पर ले जाने का प्रयास करते हैं या किसी बच्चे को मुश्किल हालात में देखें तो ऐसी परिस्थिति में चाइल्ड लाइन नं 1098 पर कॉल करके सहायता ले सकते हैं. इस कार्यक्रम में चाइल्ड लाइन सरायकेला-खरसावां के टीम सदस्य बिकास कुमार, दारोगा अजीत कवि, लक्ष्मी मुर्मू, रोमानी हंसदा एवं शिक्षक गण उपस्थित थे.

Share this...
Share on Facebook
Facebook
Tweet about this on Twitter
Twitter

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *