बंगाल सीआईडी की एचसी अधिवक्ता राजीव कुमार के तीन ठिकानों पर छापेमारी, जब्त किए अहम दस्तावेज समेत इलेक्ट्रानिक डिवाइस

रांची। पश्चिम बंगाल के कोलकाता स्थित शॉपिंग सेंटर से पिछले दिनों गिरफ्तार झारखंड हाईकोर्ट के अधिवक्ता राजीव कुमार के रांची स्थित आवास पर बंगाल सीआईडी की छापेमारी में कई महत्वपूर्ण दस्तावेज सीआईडी को हाथ लगे है. राजीव कुमार के तीन ठिकानों पर छापेमारी की गई. छापेमारी में तीन डायरी बरामद की गयी हैं जिसमें नकद लेनदेन का विवरण दिया गया है. साथ ही इलेक्ट्रोनिक डिवाइस में पीआईएल करने वालों के साथ पैसे के लेन देन की जानकारी मिली है.

टीम को इसके अलावे संपत्तियों के डीड, रांची में 7 एर्स फार्म हाउस, उनके 3 मंजिला घर के अलावा 16 फ्लैट, नोएडा में फ्लैट और ग्रेटर नोएडा में कार्यालय की भी जानकारी मिली है. रांची पुलिस के सहयोग से डोरंडा थाना क्षेत्र के गौरीशंकर नगर स्थित राजीव कुमार के आवास के अलावा तुपुदाना ओपी क्षेत्र स्थित उनके भाई अनीश कुमार की शाकंभरी राइस मिल में भी छापेमारी की गई. राजीव कुमार फिलहाल 6 दिन की पुलिस रिमांड पर है, पूछताछ में मिली जानकारी के आधार पर छापेमारी गुरूवार देर रात तक की गई है. पूछताछ में अहम जानकारियां मिली है.

याचिका वापस लेने के लि‍ए 50 लाख रुपये लेते हुए थे गिरफ्तार

झारखंड हाई कोर्ट के वरिष्ठ अधिवक्ता राजीव कुमार को कोलकाता पुलिस ने 31 जुलाई को भारी मात्रा में नकदी के साथ गिरफ्तार किया गया था. जनहित याचिका वापस लेने के एवज में कोलकाता के एक व्यवसायी से 50 लाख रुपये लेते रंगेहाथ राजीव कुमार को गिरफ्तार किया गया था. आरोप है कि याचिका को वापस लेने के लिए पहले 10 करोड़ रुपये की मांग की गई थी. बताया जाता है कि राजीव कुमार गिरफ्तारी से कुछ दिन पहले भी कोलकाता आये थे. इस दौरान वह कोलकाता में कुछ लोगों से मिले थे. पुलिस यह पता लगाने में जुटी हैं कि राजीव कुमार किन-किन लोगों के संपर्क में थे.

Share this...
Share on Facebook
Facebook
Tweet about this on Twitter
Twitter

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *