संदिग्ध हालत में मिला सीओ का शव

साहिबगंज। सोमवार को संदिग्ध अवस्था में मिला उधवा सीओ विक्रम महली का शव। शव उनके आवास से मिला है।वो राजमहल में किराए पर अंजनी नंदन चौरसिया उर्फ मुन्ना बाबू के मकान में रहते थे. पूर्व में वो पत्नी और बच्ची भी साथ रहते थे लेकिन इन दिनों वो अकेले ही रह रहे थे.

संदिग्ध स्थिति में उधवा सीओ की मौत कई सवालों को जन्म दे रहा है. जानकारी के अनुसार, सोमवार सुबह घर में काम करने वाली नौकरानी आई. उसने घर को अंदर से बंद देखकर उनकी गाड़ी के चालक मनोज मंडल को सूचना दी. मनोज मंडल ने कॉल कर सीओ से बात करने की कोशिश की लेकिन उन्होंने कॉल रिसीव नहीं किया. इसके बाद ड्राइवर वहां पहुंचा और खिड़की से झांककर देखा तो वो फर्श पर गिरे हुए थे. खिड़की से उनके चेहरे पर पानी का छिड़काव किया, फिर भी उनमें कोई हलचल नहीं हुई. इसके बाद मकान मालिक के साथ साथ अन्य लोगों को सूचना दी गयी. पड़ोस में ही कार्यपालक दंडाधिकारी विशाल पांडेय और थाना प्रभारी प्रणित पटेल रहते हैं, सभी पहुंचे और दरवाजा तोड़कर घर के अंदर दाखिल हुए.आनन-फानन में मौके पर ही राजमहल अनुमंडल अस्पताल के प्रभारी उदय टुडू को बुलाया गया. उन्होंने जांच के बाद सीओ विक्रम महली को मृत घोषित कर दिया. बताया जाता है कि कमरे का दरवाजा अंदर से बंद था, खाना टेबल पर रखा हुआ था, उनके शरीर पर सिर्फ एक गमछा था. वहीं उन्‍हें जानने वाले कुछ लोगों का कहना है कि वो हाई शुगर के मरीज थे. यहां बता दें कि 9 मार्च 2021 को उधवा में उनकी पोस्टिंग हुई थी. वह मूलत: रांची में चुटिया थाना क्षेत्र के केतारी बगान के रहने वाले थे.

Share this...
Share on Facebook
Facebook
Tweet about this on Twitter
Twitter

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *