स्वाइन फ्लू के दो मरीज मिलने के बाद स्वास्थ्य विभाग अलर्ट पर

गिरिडीह। जिले के गांडेय व जमुआ प्रखंड में स्वाइन फ्लू मरीज मिलने के बाद स्वास्थ्य विभाग अलर्ट हो गया है. दोनों मरीज प्रवासी मजदूर हैं. रांची के रिम्स में वायरोलॉजी लैब से स्वाइन फ्लू की पुष्टि के बाद दोनों का इलाज रांची में चल रहा है. सिविल सर्जन डॉ. एसपी मिश्रा ने बताया कि जमुआ प्रखंड निवासी मरीज परिवार के 6 सदस्यों का सैंपल 29 अगस्त को लिया गया. सैंपलों को जांच के लिए रिम्स वायरोलॉजी लैब भेजा गया है. महामारी नियंत्रण पदाधिकारी डॉ. आशीष मोहन सिन्हा ने बताया कि मरीज के परिवार वालों और पड़ोसियों का सर्वे किया जा रहा है. सर्दी, खांसी बुखार से पीड़ित व्यक्ति की तलाश जारी है.

रैपिड रिस्पांस टीम गठित

स्वाइन फ्लू के दो मरीज मिलने के साथ ही रैपिड रिस्पांस टीम को एक्टिव रहने का निर्देश दिया गया है. कोरोना काल में इस टीम का गठन किया गया था. जिला मुख्यालय के अलावा जिले के सभी प्रखंडों में भी टीम का गठन किया गया है. शिकायत मिलने पर टीम तुरंत पहुंचेगी. सर्दी, खांसी या बुखार से पीड़ित मरीज तत्काल चिकित्सा केंद्र पहुंचकर स्वाइन फ्लू जांच कराएं.

तेजी से फैलने वाली संक्रामक बीमारी

सीएस ने बताया स्वाइन फ्लू तेजी से फैलने वाला संक्रमण रोग है. यह बीमारी इनफ्लुएंजा वायरस से होता है. इसके लक्षण सामान्य मौसमी सर्दी व जुकाम जैसे होते हैं. नाक से पानी बहना, नाक बंद हो जाना, गले में खराश, सर्दी, खांसी, बुखार, सिर दर्द, शरीर दर्द, थकान, ठंड लगना, पेट दर्द, उल्टी इसके प्रमुख लक्षण हैं. यह रोग कम उम्र के लोगों, छोटे बच्चों तथा गर्भवती महिलाओं को ज्यादा चपेट में लेता है. संक्रमित  मरीज के खांसने और छींकने से इसका वायरस फैलता है.

बचाव के उपाय

खांसी, जुकाम व बुखार वाले मरीजों से दूर रहे. आंख, नाक, मुंह को छूने के बाद किसी अन्य वस्तु को न छुएं, अपने हाथों को साबुन से धोएं. खांसते समय मुंह व नाक पर कपड़ा रखें. गर्म पानी का सेवन करें. फलों व पौष्टिक भोजन का सेवन करें.

घबराने की कोई बात नहीं

सिविल सर्जन डॉ. मिश्रा ने बताया कि घबराने वाली कोई बात नहीं है. दोनों प्रवासी मजदूर है. जहां काम कर रहा थे वहीं स्वाइन फ्लू की चपेट में आए. पशुपालन विभाग से भी संपर्क किया गया है. स्वाइन फ्लू सूअरों से फैलने वाला रोग है. गिरिडीह में सूअरों में इसके लक्षण नहीं पाए गए हैं.

Share this...
Share on Facebook
Facebook
Tweet about this on Twitter
Twitter

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *