विधायक ने किया मुठभेड़ में शामिल इंस्पेक्टर की टीम को सम्मानित

धनबाद। मंगलवार को शहर के बैंक मोड़ थाना क्षेत्र स्थित निजी फाइनेंस कंपनी में लूट की मंशा से पहुंचे अपराधियों के साथ पुलिस की मुठभेड़ हुई थी. जिसमें एक अपराधी का एनकाउंटर और दो अपराधी को गिरफ्तार करने वाले इंस्पेक्टर पीके सिंह, कॉन्स्टेबल उत्तम कुमार और गौतम कुमार को उनकी बहादुरी और दिलेरी के लिए लोगों की ओर से सम्मानित किया गया. बुधवार को उन्हें बीजेपी विधायक राज सिन्हा, भाजपा प्रदेश कार्य समिति की सदस्य रागिनी सिंह और सिख कंबाइंड पीस कमिटी के द्वारा बुके देकर और शॉल ओढ़ाकर सम्मानित किया गया.

बीजेपी विधायक राज सिन्हा ने कहा कि पुलिस अगर अपना कर्तव्य का निर्वहन ठीक से नहीं करती है तो हम उनके खिलाफ बोलते हैं. लेकिन जिस तरह से मंगलवार को पुलिस ने दिलेरी के साथ अपनी जान पर खेलकर अपराधियों का सामना किया, वो वाकई में तारीफ के काबिल है और बधाई के पात्र हैं. दिलेरी से अपराधियों का सामना और उनकी मंशा को नेस्तनाबूत करने वाले इंस्पेक्टर और दोनों कॉन्स्टेबल को उनके साहस और कर्तव्यनिष्ठा के लिए सभी की ओर से सम्मानित किया है.

सिख कंबाइंड पीस कमिटी ने इंस्पेक्टर और उनकी टीम के कार्यो की सराहना की है. कमिटी के लोगों ने कहा कि हाल के दिनों बढ़ती आपराधिक गतिविधियों के कारण लोग काफी परेशान थे. लेकिन पुलिस ने साहस का परिचय दिया है. वहीं भाजपा प्रदेश कार्य समिति के सदस्य रागिनी सिंह ने कहा कि जिस बहादुरी के साथ इंस्पेक्टर और उनकी टीम ने अपराधियों के हौसले को पस्त किया है, उनकी इस बहादुरी के लिए लोग हमेशा उन्हें याद रखेंगे.

लोगों से सम्मान पाकर इंस्पेक्टर पीके सिंह काफी उत्साहित और गदगद नजर आए. मीडिया से बातचीत के दौरान उन्होंने कहा कि विपरीत परिस्थितियों में काम करना पुलिस का दायित्व है. लेकिन इसमें आम जनता का काफी सहयोग है, सही समय से हमें अगर सूचना नहीं मिलती तो शायद ही हम इस कार्रवाई को सफल तरीके से अंजाम दे पाते. जनता का विश्वास ही है जो पुलिस को ससमय सूचना देकर हमारा उत्साह बढ़ाने का काम करती है. उन्होंने कहा कि अपराधी घटना के वक्त फायरिंग जरूर कर रहे थे लेकिन वो पुलिस को देखकर अपना विश्वास खो बैठे थे. अपना विश्वास खोकर ही वह फायरिंग करने लगे, यही हमारे लिए काफी फायदेमंद रहा. वरना लोगों की भीड़ में अपराधियों की पहचान करना बहुत ही कठिन काम था. हालांकि इसी भीड़ का फायदा उठाकर दो अपराधी मौके से भागने में कामयाब रहे. इंस्पेक्टर पीके सिंह ने कहा कि उन्होंने अपने जीवन काल में कई एनकाउंटर किए हैं. उन्होंने जमशेदपुर की घटना का जिक्र करते हुए कहा कि वहां भी एक ऐसी ही घटना हुई थी, जिसमें चार अपराधियों को उनकी टीम ने ढेर कर दिया था.

Share this...
Share on Facebook
Facebook
Tweet about this on Twitter
Twitter

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *