पुलिस को बड़ी सफलता,33 लाख की बैंक डकैती के मामले का पर्दाफाश

जमशेदपुर। झारखंड के जमशेदपुर के मानगो के उलीडीह डिमना रोड स्थित बैंक ऑफ इंडिया की शाखा में 33 लाख से अधिक की डकैती के मामले का जमशेदपुर पुलिस ने पर्दाफाश करते हुए बिहार के दो लोगों को गिरफ्तार किया है. इसके साथ ही पुलिस ने बिष्टुपुर थाना क्षेत्र में ज्वेलर्स कर्मचारियों से 32 लाख की लूट के मामले का भी खुलासा कर लिया है. इन दोनों घटनाओं काे अंतर्राज्यीय आपराधिक गिरोह ने अंजाम दिया था. गिरोह का सरगना राजीव सिंह उर्फ पुल्लु पटना के बेऊर जेल में बंद है. इससे पहले पुलिस डकैती और लूट के इन मामलों में 28 अगस्त को रिंकू सिंह को गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है. इस लिहाज से पुलिस ने अब तक गिरोह के तीन लोगों को धर-दबोचा है. इसका खुलासा जिले के एसएसपी प्रभात कुमार ने किया. बता दें कि बीते 18 अगस्त को मानगो बैंक डकैती कांड को अपराधियों ने अंजाम दिया था. इस दौरान 33 लाख से अधिक नकद के अलावा दो किलो सोना एवं ज्वलरी की लूट हुई थी. इसके अलावा बीते 22 फरवरी को बिष्टुपुर के केनरा बैंक परिसर में ज्वेलर्स कर्मचारी से लूट की घटना को अंजाम दिया गया था.

कंटेनर से आए थे अपराधी

मानगो बैंक डकैती की घटना को अंजाम देने के लिए अपराधी बिहार के पटना से चांडिल के आगे तक एक कंटेनर (बड़ा सामान ढ़ोनेवाले वाहन) से आए थे. वहां घटना के दिन एक होटल में रुके और दो बाइक से मानगो पहुंचकर बैंक डकैती कांड को अंजाम दिया था. उसके बाद फिर चांडिल के पास उसी जगह बाइक से लौटे और बाइक खड़ी कर कंटेनर से वापस कोलकाता भाग निकले थे. वहां कंटेनर छोड़ गिरोह के सदस्य फरार हो गए थे.

गिरोह में बिहार से चार जिलों के सदस्य हैं शामिल

पुलिस के मुताबिक गिरोह में बिहार के चार जिलों के सदस्य शामिल हैं. इनमें पटना के अलावा वैशाली, समस्तीपुर और गया के सदस्य शामिल हैं.

सभी की हो चुकी है पहचान, तीन लोगों की तलाश

पुलिस ने गिरोह के सभी सदस्यों की पहचान कर ली है. इनमें तीन लोगों को पुलिस गिरफ्तार कर जेल भेजे चुकी है, जबकि सरगना बेऊर जेल में है. इसके अलावा पुलिस को अन्य तीन लोगों की तलाश है. हालांकि उनके आउट ऑफ कंट्री होने के कारण पुलिस का इंतजार थोड़ा बढ़ गया है.

रेकी कर घटना को देते थे अंजाम

गिरोह के सदस्य रेकी कर घटना को अंजाम देते थे. इसके लिए उन जगहों का चयन किया जाता था जो मेन रोड पर हो. वहां से घटना को अंजाम देकर जल्द भागने में आसानी होती थी. यही वजह है कि जमशेदपुर के मानगो और बिष्टुपुर में भी बैंक डकैती और लूट के लिए गिरोह के सदस्यों ने मेन रोड के आस-पास के स्थल का ही चयन किया.

कई राज्यों में दे चुके हैं घटना को अंजाम

गिरोह के सदस्य झारखंड के अलावा देश के अन्य राज्यों में भी डकैती और लूट की घटना को अंजाम दे चुके हैं. इसमें राजस्थान, बिहार, पश्चिम बंगाल और ओडिसा जैसे राज्य शामिल हैं.

इन्हें किया गया गिरफ्तार

पुलिस ने डकैती और लूट की इन घटनाओं में बिहार के वैशाली जिले के ताजपुर बिष्णपुर के रहनेवाले कंटनेर चालक भागवत ठाकुर और दरभंगा जिले के बहादुरपुर के खैरा के खगेन्द्र नारायण सिंह उर्फ संतोष उर्फ सोनू उर्फ खटिक को गिरफ्तार किया है.

इन सामानों की हुई बरामदगी

पुलिस ने पकड़े गए गिरोह के सदस्यों की निशानदेही पर घटना में प्रयुक्त एक पल्सर और एक अपाची मोटरसाइकिल बरामद की है. इसके अलावा बंगाल नंबर के एक कंटेनर की भी बरामदगी हुई है. साथ ही दोनों अभियुक्तों के पास से एक-एक मोबाइल फोन के अलावा 5950 रुपये भी बरामद किए गए हैं.

Share this...
Share on Facebook
Facebook
Tweet about this on Twitter
Twitter

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *