फाइनेंस कंपनी का एजेंट ही निकला लूट का मास्टरमाइंड

रामगढ़। अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी किशोर कुमार रजक ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर गत 20 सितंबर को भारत फाइनेंस कंपनी के कर्मी के साथ लगभग डेढ़ लाख रूपए की लूट मामले का खुलासा करने की बात कही. एसडीपीओ ने बताया कि बरलंगा थाना क्षेत्र के पूरबटांड मोड़ के पास भारत फाइनेंस कंपनी के फील्ड स्टाफ निजामुद्दीन अंसारी के गिरिडीह के लौटने के क्रम में बाइक सवार दो अज्ञात अपराधकर्मियों द्वारा मोटरसाइकिल की डिक्की से 147283/ रुपए,मोबाइल फोन लूट लिए जाने की शिकायत दर्ज कराई गई थी. इस संबंध में कांड दर्ज कर पुलिस ने मामले की छानबीन के लिए एक टीम का गठन किया. विशेष टीम ने सीडीआर के आधार पर जब फाइनेंसकर्मी निजामुद्दीन अंसारी से कड़ाई से पूछताछ की गई तो उसने चौंकाने वाला खुलासा किया.

दो दोस्तों के जरिए घटना को दिया गया अंजाम

पुलिस की पूछताछ में कर्मी ने बताया कि प्लान बनाकर उसने अपने गांव के दो दोस्त मेराज अंसारी और सद्दाम अंसारी के साथ मिलकर लूट की झूठी कहानी बनाई. निजामुद्दीन अंसारी के निशानदेही पर पुलिस ने खुखरा गांव से सद्दाम अंसारी को गिरफ्तार किया और उसके पास से घटना में प्रयुक्त बाइक और 7800/ रुपए नकद राशि बरामद की. जबकि एक अन्य अभियुक्त मेराज अंसारी अभी भी पुलिस की गिरफ्त से बाहर है. हालांकि पुलिस ने मेराज अंसारी के घर से निजामुद्दीन अंसारी से लूटे गए मोबाइल फोन को बरामद किया है. घटना के उदभेदन को लेकर गठित विशेष पुलिस टीम में पुलिस पदाधिकारी में राजेश कुमार , श्यामनंदन सिंह , सिद्धांत , अरुण कुमार चौधरी, रामजनम राम , घनश्याम, विवेक कुमार , सोमा उरांव आदि शामिल थे.

Share this...
Share on Facebook
Facebook
Tweet about this on Twitter
Twitter

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *