कई संगीन मामलों में आरोपी, 15 लाख का ईनामी दीपक यादव गिरफ्तार

रांची। हजारीबाग पुलिस की सूचना पर मुंबई एटीएस द्वारा पिछले दिनों महाराष्ट्र के पालघर से गिरफ्तार 15 लाख ईनामी भाकपा माओवादी दीपक यादव उर्फ कारु यादव के खिलाफ झारखंड के अलग-अलग जिलों में कुल 60 मामले दर्ज हैं. विगत 17 वर्षो से झारखण्ड के हजारीबाग, चतरा, गिरिडीह, बोकारो, लातेहार एंव बिहार के गया जिले के विभिन्न थाना में प्रतिबंधित नक्सली संगठन भाकपा माओवादी के सबसे महत्वपूर्ण तथा सक्रिय कमांडर दीपक यादव उर्फ कारू यादव ना केवल पुलिस के लिए बल्कि समाज व सुदूरवर्ती क्षेत्रों के विकास के लिए बाधक बना हुए था. हजारीबाग जिला के कटकमसांडी थाना क्षेत्र के दौड़वा (आराभूसाही) गाँव का रहने वाला दीपक यादव उर्फ कारू यादव वर्ष 2004-05 में जमीन विवाद के कारण प्रतिबंधित संगठन भाकपा माओवादी से जुड़ा. पिछले 17 सालों में इसके द्वारा कई हत्याएं,धमकी, लेवी वसूलने के साथ-साथ पुलिस से मुठभेड़ की दर्जनों घटनाएं अंजाम दी गई. जिसमें सबसे महत्वपूर्ण लातेहार के कटिया जंगल में जनवरी 2013 में पुलिस मुठभेड़ में इसके दुर्दान्त रवैये के कारण छह पुलिस जवानों के शहीद होने की घटना शामिल है. इस मुठभेड़ में ही 2 शहीद जवानों के पेट चीरकर बम / विस्फोटक लगाकर 4 अन्य पुलिस जवानों को मारा गया था. इसके द्वारा वर्ष 2020-2021 में एक महीने के अन्दर ही चतरा के मयूरहंड, सिमरिया एवं पत्थलगडा थाना क्षेत्र के तीन पुलिस मुखबिरों की हत्या की गई थी.

2006 से नक्सली कांडों में रहा संलिप्त
इससे पूर्व वर्ष 2006 में खासमहल बोकारो कैम्प में हमला कर हथियार लूटने और 2007 में गिरिडीह में होमगार्ड शस्त्रागार से हथियार लूटने के अलावे हत्या,लेवी वसूली,आर्म्स एक्ट,पुलिस मुठभेड़,आगजनी,आईईडी विस्फोट के कारण दीपक यादव उर्फ कारू यादव पर विभिन्न जिलों में करीब 60 से अधिक जघन्य मामले दर्ज हैं. झारखंड पुलिस की खुफिया विभाग को कारू यादव के महाराष्ट्र में होने की जानकारी मिली थी कारू यादव वहां एक चॉल में रहकर अपना इलाज कराने गया हुआ था. बाद में झारखंड पुलिस की सूचना पर महाराष्ट्र पुलिस की टीम ने कारू को चॉल से ही गिरफ्तार किया था इसके बाद उसे ट्रांजिट रिमांड पर पुलिस लेकर हजारीबाग पहुंची.

Share this...
Share on Facebook
Facebook
Tweet about this on Twitter
Twitter

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *