डायन बताकर महिलाओं को पिलाया मैला, गर्म लोहे से दागकर परिवार की पिटाई

दुमका। झारखंड में डायन बिसाही के मामले लगातार सामने आ रहे हैं. आधुनिक समाज में कलंक की तरह ऐसे मामले थम नहीं रहे हैं. डायन कहकर मासूमों पर अत्याचार की बानगी इस बार दुमका में देखने को मिली है. यहां एक परिवार के सभी सदस्यों को डायन बताकर मैला पिलाया गया. साथ ही उन्हें गर्म लोहे से दागा और डायन के शक में महिलाओं से मारपीट भी की गयी है. पूरे मामले में 6 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर पुलिस आगे की कार्रवाई कर रही है.

दुमका के सरैयाहाट थाना क्षेत्र के एक गांव में डायन बिसाही का आरोप लगाकर एक ही परिवार के चार लोगों के साथ मारपीट की गयी. साथ ही उन्हें मैला पिलाने और गर्म लोहे से पूरे शरीर को दागने की इस घटना ने मानवता को शर्मसार कर दिया है. घटना शनिवार की बताई जा रही है.

सूचना पर पहुंची पुलिस

सरैयाहाट पुलिस को इसकी जानकारी मिली तो थाना प्रभारी विनय कुमार पुलिस बल के साथ रविवार को गांव पहुंचे. डायन बिसाही के नाम पर प्रताड़ना के शिकार चारों को इलाज के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सरैयाहाट में भर्ती कराया गया. जहां प्रारंभिक इलाज के बाद दो को बाहर रेफर कर दिया गया. पीड़ित परिवार ने पुलिस को बताया कि उनके गांव के ही ज्योतिन मुर्मू ने बैठक करके उन लोगों के खिलाफ षडयंत्र रचा. परिवार को डायन बताकर सबक सिखाने की बात कहकर वहां मौजूद ग्रामीणों को उकसाया. पीड़िता ने बताया कि ज्योतिन ने गांव वालों को भड़काया और कहा कि ये पूरा परिवार डायन बिसाही का काम करता है. इसके बाद मुनि सोरेन, लखीराम मुर्मू, सुनील मुर्मू, उमेश मुर्मू, मंगल मुर्मू सहित कुछ लोगों ने पूरे परिवार के साथ मारपीट की और इस पूरी घटना को अंजाम दिया.

थाना प्रभारी ने दी जानकारी

इस मामले को लेकर सरैयाहाट थाना प्रभारी विनय कुमार ने कहा कि मामले की जानकारी मिलते ही सभी को इलाज के लिए सीएचसी सरैयाहाट में भर्ती कराया गया है. इसके साथ ही मामले में 6 लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है. इसमें केस संख्या 71/22 है, जिसमें आईपीसी की धारा 448, 323, 325, 326A, 341, 307, 504, 506, 34 और 3/4 डायन प्रतिशेध अधिनियम अंकित किया गया है. कार्रवाई का आश्वासन देते हुए उन्होंने कहा कि जल्द ही सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में भेज दिया जाएगा.

Share this...
Share on Facebook
Facebook
Tweet about this on Twitter
Twitter

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *